Categories
Other

भारत चीन विवाद के बीच आये इन देशों से मची खलबली ,चीन के खिलाफ तैयार किया ये परमाणु हथियार…

ची;न की हेकड़ी निकालने के लिए  ऑस्ट्रेलिया और फ्रांस ने दिया साथ भारत का साथ ,अमेरिका नौसेना का USS निमित्ज कैरियर स्ट्राइक समूह भी तैयार , जो परमाणु हथियारों से भरपूर है  ! ड्रेगन  बोखलाया , पूरी जानकारी के लिए खबर को अंत तक पढ़े !

हिन्दुस्तानी नौसेना ने ऑस्ट्रेलिया और फ्रांस की नौसेना से भी सहयोग बढ़ा दिया है. यह सैन्य अभ्यास चीन के पूर्वी लद्दाख में घुसपैठ का प्रयास और मुठभेड़, दक्षिण चीन सागर और हिंद-प्रशांत क्षेत्र में दखलंदाजी के बीच बेहद महत्वपूर्ण माना जा रहा है.

वहीं, जापान के 2 युद्धपोत JS काशिमा और जेएस शिमायुकी मौजूद हुए थे. इस अभ्यास का मकसद पड़ोसी देशों के साथ नौसैनिक तालमेल और सहयोग बनाना है.

अमेरिका और जापान के साथ किया था युद्धाभ्‍यास: चीन के साथ तना-तनी को देखते हुए हिंद महासागर में इंडियन नौसेना ने सामरिक दृष्टि से महत्वपूर्ण स्थानों पर अपने पोत तैनात कर दिए गए है. जिसके साथ ही भारतीय नौसेना ने अंडमान और निकोबार द्वीप समूह के पास पिछले माह अमेरिका और जापान की नौसेना के साथ संयुक्त सैन्य अभ्यास भी कर चुके है.https://googleads.g.doubleclick.net/pagead/ads?client=ca-pub-3737030722290655&output=html&h=250&slotname=CM_AjabGajab_BTF_WC2&adk=3863949665&adf=4212781225&w=300&lmt=1599047756&guci=2.2.0.0.2.2.0.0&url=https%3A%2F%2Fwww.imwithnamo.com%2Findian-navy-increased-coopration-with-aus-and-france%2F&flash=0&wgl=1&adsid=ChEI8IW9-gUQlfKl1K_yoZfqARImAB6otkkfl-HC7En82eeFFw5lMYph2sgsIQqsERJHYeEx0QKvw4Y&dt=1599047755986&bpp=21&bdt=520&idt=400&shv=r20200826&cbv=r20190131&ptt=5&saldr=sa&abxe=1&cookie=ID%3Df6067060a31d36bc%3AT%3D1598981066%3AS%3DALNI_Mb9-f-kVCgZrXif4giMEarVDjT33Q&prev_slotnames=cm_ajabgajab_atf_lb&correlator=2527988016928&frm=20&pv=1&ga_vid=2009939556.1598981062&ga_sid=1599047756&ga_hid=443949795&ga_fc=0&iag=0&icsg=44009435135&dssz=29&mdo=0&mso=0&u_tz=330&u_his=6&u_java=0&u_h=873&u_w=393&u_ah=873&u_aw=393&u_cd=24&u_nplug=0&u_nmime=0&adx=47&ady=1710&biw=393&bih=735&scr_x=0&scr_y=0&eid=21066154%2C44723322%2C21066945%2C21066819%2C21066973&oid=3&pvsid=3377830584460339&pem=635&rx=0&eae=0&fc=640&brdim=0%2C0%2C0%2C0%2C393%2C0%2C393%2C735%2C393%2C735&vis=1&rsz=%7C%7CeEbr%7C&abl=CS&pfx=0&fu=8192&bc=31&jar=2020-09-02-11&ifi=2&uci=a!2&btvi=1&fsb=1&xpc=OjGhmJCzxf&p=https%3A//www.imwithnamo.com&dtd=423

जिसमे अमेरिका नौसेना का USS निमित्ज कैरियर स्ट्राइक समूह भी था, जो परमाणु हथियारों से भरपूर है. इस सैन्य अभ्यास में इंडियन नौसैनिक जहाज INS राणा और INS कुलिश शामिल हुए थे.

चीन की हेकड़ी दूर करने और इंडिया का पूरी सकती के साथ देने की तैयारी विश्व के कई देश जुटा हुआ है. अमेरिका ने हिंद महासागर में स्थित अपने दिएगोगार्शिया सैन्य अड्डे पर स्टील्थ B-2 बमवर्षकों की तैनाती की जा चुकी है.

परमाणु हथियारों से लैस यह विमान विश्व का अत्याधुनिक फाइटर विमान है. जिसकी स्टील्थ कैपेबिलिटी इसे किसी भी रडार की पकड़ से बचा लिया गया है. विशेषज्ञों के मुताबिक पूर्वी लद्दाख में तनाव बढ़ा रहे चीन के लिए इंडियन जमीन से पीछे हटने का अमेरिका की ओर से यह साफ इशारा कर दिया है