Categories
News

Breaking News-: देश में फिर लगेगा संपूर्ण लाॅकडाउन, 14 अप्रैल को पीएम मोदी…

खबरें

कोविड-19 के बढ़ते मा’मलों के मद्देनजर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 14 अप्रैल को शाम साढ़े बजे तक राज्यपालों के साथ बातचीत करेंगे. इससे पहले प्रधानमंत्री मोदी ने 8 अप्रैल को मुख्यमंत्रियों के साथ बातचीत की थी.

मुख्यमंत्रियों संग बैठक में प्रधानमंत्री ने को’वि’ड उपयुक्त व्यवहार को बढ़ावा देने के लिए राज्यों में सर्वदलीय बैठक बुलाने का सुझाव दिया, जिसमें राज्यपाल, मशहूर हस्तियों एवं अन्य सम्मानित लोगों को शामिल करने का सुझाव दिया था. राज्यपालों के साथ चर्चा में पीएम मोदी देश भर में बिगड़ती स्थिति को लेकर बातचीत कर सकते हैं इसके साथ ही संक्रमण की चेन को तोड़ने के उपायों पर चर्चा हो सकती है.

पीएम मोदी ने मुख्यमंत्रियों के साथ बैठक में कहा था कि भारत ने कोविड-19 महामारी की पहली लहर की चरम सीमा को पार कर लिया है; कुछ राज्यों में स्थिति बहुत गंभीर है. पीएम मोदी ने कहा था कि लोग पहले से अधिक बेपरवाह हो गए हैं, कुछ राज्यों में प्रशासन शिथिलता बरत रहा है. प्रधानमंत्री ने मुख्यमंत्रियों से सं’क्र’मण की दर पांच फीसदी से नीचे लाने के लिए उपाय करने को भी कहा. पीएम मोदी ने कहा था कि किसी व्यक्ति के कोरो’ना वाय’रस से संक्र’मित पाए जाने के बाद 72 घंटे में उसके संपर्क में आए 30 लोगों का पता लगाना हमारा लक्ष्य होना चाहिए.

बता दें भारत में को’रो’ना वा’यर’स संक्र’मण के अब तक के सर्वाधिक 1,68,912 नए मा’मले सामने आने के बाद संक्र’मि’तों की कुल संख्या बढ़कर 1,35,27,717 हो गई है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के सोमवार की सुबह आठ बजे के आंकड़ों में यह जानकारी दी गई है. देश में सं’क्रमित लोगों के स्वस्थ होने की दर 90 प्रतिशत से भी कम रह गई है. आंकड़ों में बताया गया है कि देश में उपचाराधीन मरीजों की संख्या 12 लाख से अधिक हो गई है तथा 904 और लोगों की मौ’त होने के बाद संक्र’म’ण से अब तक मा’रे गए लोगों की कुल संख्या बढ़कर 1,70,179 हो गई है.
सं’क्र’मण के दैनिक मा’मलों में लगातार 33वें दिन हुई बढ़ोतरी के बीच देश में उपचाराधीन लोगों की संख्या बढ़कर 12,01,009 हो गई है, जो संक्र’मण के कुल मा’मलों का 8.88 प्रतिशत है, जबकि लोगों के स्वस्थ होने की दर गिरकर 89.86 प्रतिशत रह गई है.