Categories
Other

इस बड़ी वजह के कारण धोनी ने संन्यास के लिए 15 अगस्त का दिन चुना, साथ ही विडियो में लिखा 1929

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान एमएस धोनी ने 15 अगस्त यानी कल अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्या’स का ऐलान कर दिया. धोनी ने एक बार फिर से अपनी सादगी का परिचय देते हुए इन्स्टाग्राम पर एक पुराना गाना जिसके बोल है “मैं पल दो पल का शायर हूँ, पल दो पल मेरी कहानी है” के साथ उन्होने लिखा की अब मुझे रिटायर समझा जाये. इसी गाने के साथ धोनी अपने रिटायरमेंट का ऐलान कर दिया. धोनी भारतीय क्रिकेट में वो शख्सियत है जिन्होंने टीम इंडिया को बुलंदियों पर पंहुचाया.

धोनी ने भी 15 अगस्त यानी स्वतंत्रता दिवस के दिन उन्होंने संन्यास लेकर अपने देशप्रेम को जाहिर किया है। उन्होंने लोगों को संदेश दिया है कि संन्यास लेने के लिए इससे अच्छा कोई दिन नहीं हो सकता। उनका संन्यास हमेशा याद भी रखा जाएगा।धोनी ने बच्चों के लिए एक सरल तारीख भी दे दी है। जब भी बच्चों से यह पूछा जाएगा कि महेन्द्र सिंह धोनी ने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास कब लिया तो वे आसानी से बता देंगे स्वतंत्रता दिवस। 15 अगस्त की यह तारीख इतिहास में हमेशा याद रखी जाएगी।

हालांकि धोनी आईपीएल खेलते रहेंगे। धोनी के रिटायरमेंट को लेकर चर्चाओं का बाजार करीब एक साल से गर्म था। दरअसल, पिछले साल इंग्लैंड में हुए विश्व कप सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड के खिलाफ हार के बाद से ही उन्होंने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में कदम नहीं रखा था। कहा जा रहा है कि बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली को दिन में ही धोनी ने संन्यास की चिट्ठी लिख दी थी।