Categories
जुर्म

एक ही महिला से एकसाथ सं’बं’ध बनाने लगे साढू-साढू, गजब तो तब हुआ जब…

जर्म

पुरंदरपुर थानाक्षेत्र के करमहा निवासी राजू विश्वकर्मा पुत्र गौरीशंकर की ह’त्या के मा’मले का पु’लिस ने शुक्रवार को प’र्दाफा’श कर दिया। राजू की ह’त्या उसके साढू सतीश ने रिश्तेदारी की एक महिला से अ’वैध सं’बंध के चलते किया था। उक्त महिला से दोनों साढ़ूओं का प्रेम सं’बं’ध था। राजू को अपने रास्ते से हटाने के लिए सतीश ने इस घ’ट’ना को अं’जा’म दिया।

पु’लिस अधीक्षक प्रदीप गुप्ता ने फरेंदा थाने में आयोजित प्रेसवार्ता में बताया कि 21 सितंबर को राजू व सतीश विश्वकर्मा लेहड़ा स्टेशन पहुंचे। जहां सतीश ने फोन कर अपने एक अन्य साढू कमलेश को बुला लिया। इसके बाद तीनों वहीं शरा’ब का सेवन किया।

कुछ देर बाद तीनों एक ही बाइक से कमलेश के घर झिगुरूजोत पहुंचे। शरा’ब पीने के कारण कमलेश की पत्नी दुर्गावती गु’स्से में आ गई और भोजन बनाने से इं’कार कर दी। बाद में राजू बाइक पर सतीश को बैठाकर घर के लिए निकल दिया। जैसे ही वह बनगढि़या के पास पहुंचे। उनकी बाइक अनियंत्रित हो गई और वह गिर गए। गिरने से राजू के चेहरे पर चोट आई। मौका देख सतीश ने राजू का ग’ला दबा दिया। जिससे उसकी मौ’त हो गई। सतीश ने पु’लि’स को बताया कि राजू व उसका सं’बं’ध रिश्तेदारी की एक महिला से था। राजू को अपने रास्ते से हटाने के लिए उसने इस घटना को अंजाम दिया। पु’लि’स ने आ’रो’पित को गि’र’फ्ता’र कर न्यायालय में पेश किया, जहां से उसे जे’ल भे’ज दिया गया है।