Categories
Other

दो’षी अक्षय ने फां’सी रुकवाने के लिए चली नई चाल, अब कब होगी फां’सी?

नि’र्भ’या के दो’षी बचने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं. दो’षी विनय की दया याचिका खारिज होने के बाद अब दो’षी अक्षय ने राष्ट्रपति के पास दया याचिका भेजी है. निर्भया मामले में दो दो’षि’यों पवन और विनय की याचिका राष्ट्रपति ने पहले ही खारिज कर चुके हैं साथ ही मुकेश अपनी दया याचिका पहले ही वापस ले चुका है. आपको बता दें कि अब इस मा’मले में सिर्फ दो’षी अक्षय के पास ही दया याचिका दाखिल करने का कानूनी अधिकार बचा हुआ है. 

शनिवार को दो’षी अक्षय ने अपनी दया याचिका राष्ट्रपति के पास भेज दी. दरअसल नि’र्भ’या के’स के दो’षि’यों को फां’सी पर लटकाने के लिए एक फरवरी का डे’थ वारं’ट जारी किया गया था. ति’हा’ड़ जे’ल प्रशासन इसके लिए कई दिनों से तैयारी कर रहा था. 30 जनवरी को मेरठ के पवन जल्ला’द ति’हा’ड़ जे’ल पहुंचा. पवन ने ति’हा’ड़ में फां’सी के लिए किए गए इंतजामों का जायजा लिया.

दूसरी तरफ शुक्रवार को सुनवाई के दौरान दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट में दो’षि’यों के वकील एपी सिंह ने याचिका दाखिल कर डे’थ वारं’ट रद्द करने की मांग की. एपी सिंह ने अपनी याचिका में दो’षी विनय की राष्ट्रपति के पास दया याचिका लंबित होने का हवाला दिया. कोर्ट ने इस मामले में अगले आदेश तक डे’थ वारंट रद्द कर दिया है.


सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को उस मामले की सुनवाई पर भी सहमति देती जिसमें केंद्र ने दो’षि’यों पर मामले को लटकाने का आरोप लगाया था. नि’र्भ’या केस के दो’षि’यों की ओर से लगातार फां’सी की सजा टालने के लिए कोर्ट की रुख करने के बाद शुक्रवार को इस मामले में सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट इस बात पर सहमत हो गया है कि इस मामले में नए दिशा निर्देश तय किए जाएं. सु’प्रीम को’र्ट फां’सी की सज़ा के मा’मलों में पीड़ित और समाज के हित को ध्यान में रखते हुए दिशा नि’र्देश बनाये जाने की केंद्र सरकार की मांग पर भी सहमत हो गया है. इस मा’मले में सुप्रीम कोर्ट ने केंद्र की याचिका पर नोटिस जारी किया है. सुनवाई के दौरान सरकार का कहना है कि 2014 में शत्रुघ्न चौहान केस में दिए SC के दिशा निर्देश दो’षि’यों के लिए फां’सी टलवाने के लिए हथ’कंडा बन गया है.