Categories
News

इन 5 पोजीशन में से*स करना पसंद करती हैं महिलाएं, आप भी जानें और पार्रटनर को करे…..

लाइफस्टाइल

का’मशास्‍त्र के अनुसार से*स लाइफ को महिला और पुरुष दोनों ही बराबर पसंद करते हैं। एक बेहतर से*स लाइफ के लिए जीवन में नित नये प्रयोगों का होना भी बेहद ज़रूरी है। जिससे कि सेक्‍स लाइफ में बोरियत न आए। ऐसा कई बार देखा जाता है कि पुरुष सोचते हैं कि वो से*स के बेहतरीन पॉ’जि’श’न आदि के लिए केवल वो ही लालायित रहते हैं। लेकिन ऐसा नहीं है जिस प्रकार पुरुषों को विशेष क्रियाओं या पॉ’जि’श’न में से*स करना पसंद होता है, उसी प्रकार महिलाओं को भी होता है। ये से*स पॉजिशन महिलाओं को करती हैं सबसे ज्‍यादा आनंदित-

1. पुरुष महिला के ऊपर:-
पहली क्रिया जिसमें सं’भो’ग के दौरान पुरुष महिला के ऊपर होता है। यह सबसे पुरानी क्रिया है, जिसे महिलाएं सबसे ज्‍यादा पसंद करती हैं। इस क्रिया में महिलाओं को प्रेम और से*स दोनों का बराबर से अनुभव होता है। इस दौरान पुरूषों को अपने वजन का खास ध्‍यान रखना चाहिऐ और दबाव को सही और ठीक प्रकार से ही बनान चाहिए।

2. पुरूष के जांघ पर महिला:-
से*स की इस बेहतरीन क्रिया में पुरुष की जां’घों पर उसकी पा’र्टनर बैठ जाती है। इस क्रिया में बैठकर संभोग किया जाता है। इसमें सीधे दिल से दिल का संपर्क होता है। यदि इस क्रिया के साथ चुं’ब’न भी लिया जाए तो… प्‍यार का अहसास कई गुना बढ़ जाता है।

3. महिला पुरूष के ऊपर:-
इस पो’जि’शन में जिसमें महिला अपने पा’र्टन’र के ऊपर बैठ जाती है। आम तौर पर महिलाओं को हावी होना पसंद होता है और इस पो’जी’शन में उसी बात का अहसास ज्‍यादा होता है। इस पो’जी’शन में महिलाएं बहुत जल्‍द चरम सीमा यानी रति नि’ष्‍पत्ति की अवस्‍था में पहुंच जाती हैं। इस दौरान पुरूष को महिला का पुरा सहयोग करना चाहिए, और नीचे से ऊपर की तरफ दबा’व भी बनाना चाहिए।

4. पो’जि’श’न 66:-
यह पोजिशन बेहद ही कारगर और रो’मां’चक माना जाता है। जैसा कि हम आपको पूर्व में बता चुके हैं कि, महिलाओं को अलग-अलग तरह से से*स करना पसंद होता है। पो’जी’श’न ’66’ प्‍यार और से*स का अलग अहसास कराता है। इसमें महिला अपने पुरुष पार्टनर के ऊपर पीठ करके बैठ जाती है। इस पोजीशन में अगर पुरुष अपनी पार्टनर की छाती पर मसाज करे तो ज्‍यादा सहायक सिद्ध हो सकता है।

5. स्‍पून फिटिंग पो’जी’श’न:-
म’हि’ला’ओं को स्‍पू’न फि’टिं’ग पो’जी’शन भी काफी पसंद होती है। इस पो’जी’श’न में जिस प्रकार दो चम्‍मच एक दूसरे में फिट हो जाते हैं, उसी प्रकार महिला, पुरुष एक दूसरे के आ’लिं’गन में खो जाते हैं। पुरुष पीछे की तरफ रहता है और महिलो को आनंद के चर’मो’त्‍क’र्ष पर पहुंचाता है।