Categories
Other

हैदराबाद: वारदात से पहले पुलिस की चंगुल से फरार हुआ था मुख्‍य आरो-पी

हैदराबाद गैंगरेप और मर्डर मामले में एक सनसनीखेज खुलासा हुआ है. जिसमें 27 नवंबर को हुई ये घटना का मुख्‍य आरोपी पिछले दो साल से बिना ड्राइविंग लाइसेंस के ट्रक चला रहा था और वारदात के महज 48 घंटे पहले पुलिस की गिरफ्त में आया था लेकिन चकमा देकर बच निकला.आइए आपको बताते है क्या हुआ था 48 घंटे पहले

मुख्‍य आरोपी मोहम्‍मद अली उर्फ आरिफ को महबूबपुर के विजिलेंस और ट्रांसपोर्ट अधिकारियों ने 25 नवंबर को रोका था लेकिन न केवल वह पुलिस गिरफ्त से भाग निकला बल्कि पुलिस को अपना ट्रक भी जब्‍त नहीं करने दिया. पुलिस ने बताया जब वे ट्रक को सीज कर रहे थे अली ने जानबूझकर उसे खराब कर दिया ताकि उसे कहीं ले न जाया जा सके. बाद में जब पुलिसवाले वहां से चले गए तो उसने अपना ट्रक चालू कर भाग गया.

घटना की जांच के दौरान इन बातों का खुलासा हुआ है. आपको बता दें कि 24 नवंबर को अली और ट्रक क्‍लीनर जोल्‍लू शिवा ने कर्नाटक से ईंटें लोड की थीं. और हैदराबाद में लानी थीं. रिमांड रिपोर्ट में मुताबिक अली ने बाकी के दो आरोपियों जोल्‍लू नवीन और चिंताकुंटा चेन्‍नाकेशवुलू को फोन करके कहा कि वे उसे तेलंगाना के गांव गुडीगांदला में मिलें. उनकी योजना यहां से स्‍टील के चैनलों को अवैध तरीके से लोड करके हैदराबाद ले जाने की थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.