Categories
News

अभी अभी बॉलीवुड में दौड़ी शोक की लहर, नही रहे दिग्गज……

खबरें

70 के दशक के एक्टर विशाल आनंद का लंबी बी’मारी के बाद रविवार को नि’धन हो गया। वे बॉलीवुड के मशहूर आनंद परिवार से ताल्लुक रखते थे और देव आनंद के भतीजे थे। आनंद को मुख्यरूप से उनकी फिल्म ‘चलते-चलते’ के लिए जाना जाता है, जो 1976 में रिलीज हुई थी। इस फिल्म के गाने ‘प्यार में कभी-कभी’ और ‘कभी अ’लवि’दा न कहना’ काफी पॉ’पुलर हुए थे और आज भी लोगों की जु’बान पर चढ़े सुने जा सकते हैं।

ज्यादा नहीं चल सका फिल्मी करियर

सिने प्लॉट की रिपोर्ट के मुताबिक, विशाल आनंद ने दिल्ली से पढ़ाई की थी और फिल्मों में क’रियर बनाने के लिए मुंबई आ गए थे। निर्देशक देवी शर्मा ने ‘हमारा अ’धिका’र’ (1970) से ब्रे’क दिया था। इस फिल्म में उनकी को-स्टार कुमुद छु’गानी थीं। हालांकि, विशाल को अपने चाचा देव आनंद की तरह सफलता नहीं मिली और ज’ल्दी ही उनका क’रियर ख’त्म हो गया।

कुल 11 फिल्मों में कि’या था काम

रि’पोर्ट्’स की मानें तो वि’शाल ने पूरे करि’यर में कुल 11 फिल्मों में काम किया था। इनमें ‘हमारा अ’धिकार’ के अलावा ‘सा रे गा मा पा’ (1972), ‘टैक्सी ड्राइ’वर’ (1973), ‘हिं’दुस्तान की क’सम’ (1973), ‘चलते-चलते’ (1976) और ‘कि’स्मत’ (1980) शामिल हैं।

बप्पी लाहिड़ी की सफलता में बड़ा हाथ

रि’पो’र्ट के मु’ताबि’क, बप्पी लाहिड़ी को बतौर म्यू’जि’क डा’यरेक्ट’र बड़ा ब्रे’क वि’शा’ल आ’नंद की फि’ल्म ‘चलते-चलते’ से ही मिला था। हालांकि, उन्हों’ने इससे क’रीब तीन सा’ल प’हले फिल्मों में डे’ब्यू कर लिया था।