Categories
Other

Budget को लेकर अखिलेश यादव ने दिया बड़ा बयान कहा- ‘सरकार…’

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आज अपना दूसरा आम बजट सदन में पेश किया है. इसी को लेकर मोदी सरकार 2.0 के दूसरे बजट पर विपक्ष की तीखी प्रक्रिया आनी शुरू हो गई है. आपको बता दें कि आर्थित मंद्दी का सामना कर रही मोदी सरकार पर विपक्ष ने जमकर हमला बोला है. वहीं, मोदी सरकार के मंत्रियों ने बजट की सराहना की है.

उत्तर प्रदेश के पूर्व सीएम अखिलेश यादव ने कहा कि ये दिवालिया सरकार का दिवालिया बजट है. बीजेपी अर्थव्यवस्था को लेकर नाकाम है. यूपी में बीजेपी की सरकार है, लेकिन इन्वेस्टमेंट लाने के नाम पर कुछ नहीं था. रोजगार कैसे पैदा होगा, मोदी सरकार बेरोजगारी के मसले को कैसे दूर करेगी. ये बजट आंकड़ों का मकड़जाल था ताकि अन्य मद्दों से ध्यान भटकाया जा सके.

साथ ही बजट पर अभिषेक मनु सिंघवी ने ट्वीट करके कहा ‘दुश्मन न करे दोस्त ने जो काम किया है, साल भर का गम, गरीबों पर जुल्मो सितम, फिर से जनता को इनाम दिया है.’ वहीं, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता आनंद शर्मा ने कहा कि निर्मला सीतारमण बजट का गणित समझाने में विफल रही हैं. 4.8% की जीडीपी वृद्धि के साथ 2024 तक 5 ट्रिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य एक पाइप ड्रीम है.

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि नए दशक का पहला बजट आज वित्त मंत्री ने पेश किया. ये आशाजनक और प्रगतिशील बजट है, जो आने वाले वर्षों में भारत को स्वस्थ और समृद्ध बनाएगा. मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि ये बजट देश के सभी क्षेत्रों में चहुंमुखी विकास का मार्ग प्रशस्त करेगा. व्यक्तिगत आय करों में कमी एक स्वागत योग्य कदम है. यह ईमानदार कर दाताओं को राहत देगा और कर व्यवस्था को सरल करेगा.

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि ये बजट अर्थव्यवस्था को और मजबूत करेगा. वहीं, केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने कहा कि ये नए भारत के लिए बजट है, जहां बुनियादी ढांचे और रोजगार सृजन पर अधिक ध्यान केंद्रित किया गया है.