Categories
Other

गृह मंत्री अमित शाह ने देश के डॉक्टरों से बात कर की ये बड़ी अपील

बीते कुछ दिनों से देश के अलग-अलग हिस्सों में मेडिकल स्टाफ पर तब’लीकी जमा’त के लोगों द्वारा हमले होने से डॉक्टर ना’राज हैं और वो इसेक लिए सख्त केंद्रीय स्पेशल कानून बनाने की मांग कर रहे हैं.वहीं इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (IMA) भी लंबे समय से डॉक्टरों से मा’रपी’ट करने वालों के खिलाफ केंद्रीय कानून बनाने की मांग करता रहा है.

इसी सब को लेकर अब केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने आज इंडियन मेडिकल एसोसिएशन (आईएमए) और डॉक्टरों से बात की है और उनसे सांकेतिक वि’रो’ध प्रद’र्शन न करने की अपील की है. साथ ही उन्होंने डॉक्टरों को भरोसा दिलाया कि सरकार उनके साथ है. आपको बता दें कि मेडिकल स्टाफ पर हो रहे हमलों के विरोध में डॉक्टर आज सांकेतिक प्र’दर्श’न के तौर पर मोमबत्ती जलाने वाले हैं.

जानकारी के लिए आपको बता दें कि केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री डॉक्टर हर्षवर्धन ने आज वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से इंडियन मेडिकल एसोसिएशन के डॉक्टरों के साथ बातचीत की. अमित शाह ने डॉक्टरों को सुरक्षा का आश्वासन दिया और उनसे अपील की कि वे उनके द्वारा प्रस्तावित प्रतीकात्मक विरोध को न करें, सरकार उनके साथ है.

स्वास्थ्य मंत्रालय ने 2019 में एक ड्राफ्ट जारी कर डॉक्टरों पर ह’म’ले के आरोपी को 10 साल की जेल और 10 लाख रूपए के जुर्माने का प्रावधान भी किया था. इस ड्राफ्ट को कानून और वित्त मंत्रालय ने मंजूरी दे दी थी, लेकिन मा’मला गृह मंत्रालय ने अटका दिया था. उसका कहना था कि अलग से का’नून नहीं बनाया जा सकता है.

गौरतलब है कि कोरोना के खि’लाफ जंग में जो डॉक्टर्स देवदूत बने हुए हैं वहीं अब काला दिवस मनाने को मजबूर हैं. एक तकफ जहां डॉक्टर्स लोगों की जान बचाने के लिए दिन रात जुटे हुए हैं, वहीं दूसरी ओर स्वास्थकर्मियों पर हमले कम होने का नाम नहीं ले रहे. इसे देखते हुए देश के लाखों डॉक्टरों ने कल काला दिवस मनाने का फैसला किया।