Categories
Other

महाराष्ट्र के गृहमंत्री ने तब्लीगी जमात को लेकर दिल्ली पुलिस पर लगाया ये बड़ा आरोप

देश में कोरोना वायरस के मामलों तेजी से बढ़ रहे है. आपको बता दें कि अब तक मरीजों की संख्या पांच हजार के पार पहुंच चुकी है. अब तक देश में इसके 5734 केस सामने आ चुके हैं. वहीं 166 लोगों की इससे मौत हो चुकी है. साथ ही बता दें कि 401 लोग इलाज के बाद रिकवर भी हो चुके हैं. आपको बता दें कि देश में सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र से सामने आ रहे हैं.

तब्लीगी जमात की वजह से देश में कोरोना का संकट और बढ़ गया है और इसकी सबसे बड़ी वजह दिल्ली पुलिस की लापरवाही है. ये आरोप महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने दिल्ली पुलिस पर लगाया है. महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के जरिये बताया की जिस तरह से 15 और 16 मार्च को दिल्ली में तब्लीगी समाज का कार्यक्रम हुआ था, उसी तरह से इसी तारीख पर मुंबई के पास वसई इलाके में एक कार्यक्रम का आयोजन ये समाज करने वाला था.

जिसमें करीब 50 हजार तब्लीगी जमात के लोग शामिल होने वाले थे. लेकिन करोना वायरस की गंभीरता को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने इस कार्यक्रम के होने की इजाजत नहीं दी. लेकिन दिल्ली पुलिस ने उसी तारीख पर तब्लीगी जमात के कार्यक्रम के आयोजन की इजाजत दी, जिसका ये परिणाम है कि आज कोरोना का संकट बढ़ गया है. क्योंकि दिल्ली मरकज से कोरोना संक्रमित तमाम लोग देश के कोने कोने में फैल गये जिसका परिणाम है कि कोरोना संक्रमित लोगों का आंकड़ा बढ़ता गया.

अनिल देशमुख के मुताबिक महाराष्ट्र में अभी भी 56-57 तब्लीगी जमात के ऐसे लोग हैं, जिन्हें पुलिस तलाश कर रही है, लेकिन वो लोग अपना फोन बंद करके छुपे हुए हैं. सरकार की अपील है कि वो अपने नजदीकी पुलिस से संपर्क करके सामने आएं, ताकि उनकी कोरोना जांच हो सके. अनिल देशमुख ने सवाल खड़े करते हुए कहा कि महाराष्ट्र और अन्य राज्यों में तब्लीगी जमात की वजह से जो नया संकट खड़ा हुआ है, इसकी जिम्मेदार दिल्ली पुलिस है, उसने ऐसी लापरवाही क्योंकि इसपर सवाल खड़ा होता है।