Categories
News

बुरी खबर-: अभिनेता अजय देवगन के परिवार में दौड़ी शोक की लहर, काजोल का रो-रोकर हुआ बुरा हाल !! नही रहे अजय देवगन के……

खबरें

साल 2020 बॉलीवुड के लिए बे’ह’द ख़’रा’ब बीत रहा है। एक के बाद एक बु’री ख़बरें आ रही हैं। अब अजय देवगन पर दुखों का प’हाड़ टूटा है। उनके छोटे भाई अनिल देवगन का नि’ध’न हो गया है। अनिल 45 साल के थे। इस ख़बर से बॉलीवुड में शो’क की लहर छा गयी है। से’लेब्रि’टी’ज़ अजय को सांत्वना देने के साथ अनिल को श्र’द्धांजलि अ’र्पि’त कर रहे हैं। हा’लां’कि अ’भी मौ’त की वजह सा’मने नहीं आयी है।

अजय ने ख़ुद सोशल मीडिया के ज़रिए दु’खद ख़बर शेयर की। उन्होंने बताया कि कल रात अनिल देवगन यह दुनिया छोड़कर चले गये थे। उनकी असमय मौ’त से परिवार बेहद दु’खी है। अजय ने लिखा कि अजय देवगन फ़िल्म्स और वो उनकी कमी शिद्दत से म’हसू’स करेंगे। आ’त्मा के लिए प्रार्थना कीजिए। को’रो’ना वा’यर’स पै’नडेमि’क की वजह से कोई व्यक्तिगत शो’क सभा आयोजित नहीं की जाएगी।

अनिल ने 1996 में आयी सनी देओल, स’लमा’न ख़ा’न और करिश्मा कपूर की फ़िल्म जीत से बतौर असिस्टेंट डायरेक्टर अपना करियर शुरू किया था। इसके बाद अजय की फ़िल्मों जा’न, प्या’र तो होना ही था, इ’तिहा’स और हिंदुस्तान की क’स’म में अनिल ने ब’तौ’र अ’सिस्टें’ट काम किया था।

2000 में आयी अजय की फ़िल्म राजू चाचा से अनिल ने बॉलीवुड में बतौर इंडिपेंडेंट निर्देशक पारी शुरू की। इस फ़िल्म में काजोल, ऋषि कपूर और संजय दत्त भी अहम किरदारों में थे। राजू चाचा अजय देवगन की भी पहली होम प्रोडक्शन फ़िल्म थी। 2005 में अनिल ने अजय को ब्लै’कमे’ल में निर्देशित किया था। बतौर निर्देशक अनिल की आख़िरी फ़िल्म हाले-दिल है, जो 2008 में आयी थी। अजय की फ़िल्म सन ऑफ़ सरदार में वो क्रिएटिव डायरेक्टर थे। पिछले साल 27 मई को अजय के पिता वेटरन एक्शन निर्देशक वीरू देवगन का नि’ध’न हुआ था।