Categories
Other

अभी अभी गुला’म न’बी आजाद ने बीजेपी में शामिल होने का बताया समय, मैं जब बीजेपी ज्वाइन करूंगा…….कॉग्रेस में मचा ह’ड़कं’प👇

खबरें

कां’ग्रेस के दि’ग्गज ने’ता गुला’म न’बी आ’जाद रा’ज्यस’भा में अपना कार्य’काल ख’त्म कर रहे हैं। वहीं उनको लेकर अट’कलों का बा’जार गर्म है। बीते दिनों राज्यसभा में जिस तरह के घट’नाक्रम देखने को मिले, उससे ऐसी अ’टकलें लगाई जा रही हैं कि वह भा’जपा में शा’मिल हो सकते हैं। अब इसे लेकर आ’जाद ने अपनी चु’प्पी तोड़ी है।

हिन्दुस्तान टाइम्स से बातचीत में गु’लाम न’बी आ’जाद ने भारतीय जनता पार्टी में शा’मिल होने की अट’कलों पर कहा कि मैं भाज’पा में तब शा’मिल होऊंगा, जब हमारे पास क’श्मीर में का’ली बर्फ होगी। उन्होंने आगे कहा कि भा’जपा ही क्यों, उस दिन मैं किसी अन्य पार्टी में भी शा’मिल हो जाऊंगा। जो लोग यह कहते हैं या इन अ’फ’वाहों को फै’लाते हैं, वे मुझे नहीं जानते।

एक वाकया साझा करते हुए आजाद ने कहा कि जब राजमाता सिंधिया विप’क्ष की उ’पनेता थीं, तो उन्होंने खड़े होकर मेरे बारे में कुछ आ’रोप लगाए। मैं उठ गया और मैंने कहा कि मैं आ’रोप को बहुत गंभी’रता से लेता हूं और सरकार की ओर से मैं एक समि’ति का सुझाव देना चाहूंगा, जिसकी अध्यक्षता अटल बिहारी वाजपेयी करेंगे, और उसमें राजमाता सिंधिया और लालकृष्ण आडवाणी सदस्य होंगे। मैंने कहा कि उन्हें 15 दिनों में रि’पोर्ट पूरी करनी चाहिए और वे जो भी सजा का सुझाव देंगे, मैं उसे स्वीकार करूंगा।

आजाद ने बताया कि अपना नाम सुनते ही वाजपेयी जी मेरे पास आए और पूछा कि ऐसा क्यों। जब मैंने उनसे कहा तो उन्होंने खड़े होकर कहा- मैं सदन और गु’लाम न’बी आजाद से क्ष’मा मांगना चाहता हूं। शायद राजमाता सिंधिया उन्हें (आजा’द) नहीं जानती, लेकिन मैं जानता हूं।

राज्यसभा में अपने और पीएम के भावु’क हो जाने को लेकर उन्होंने कहा कि हम दोनों इसलिए नहीं रो रहे थे क्योंकि हम एक दूसरे को जानते नहीं थे, बल्कि इसका कारण यह था कि 2006 में एक गुजराती पर्यटक बस पर क’श्मीर में हम’ला किया गया था और मैं उनसे बात करते हुए भा’वुक हो गया था और रो’ने लगा था।

उन्होंने बताया कि प्रधानमंत्री कह रहे थे कि यहां एक श’ख्स रिटायर हो रहा है, जो एक अच्छा इंसान भी है। वह कहानी को पूरा नहीं कर सके क्योंकि वह भा’वुक हो गए और जब मैं कहानी को पूरा करना चाहता था, तो मैं भी नहीं कर सका क्योंकि मुझे लगा कि मैं 14 साल पहले उस पल में वा’पस आ गया था, जब ह’मला हुआ था।