Categories
News

आगे बज रहा था बैंड-बाजा, घोड़ी चढ़ा था दूल्हा, तभी आ गई पु’लिस ओर…

खबरें

मथुरा। घुड़चढ़ी के दौरान दूल्हा घोड़ी पर बैठ कर खुश हो रहा था और बैंड बाजे वाले फिल्मी गानों की धुन बजाने में मस्त थे लेकिन जैसे ही बैंड-बाजे वाले और घोड़ी चढ़ा दूल्हा सड़क पर थाने के सामने से गुजर रहे थे तभी पु’लिस भी हरकत में आ गई। दूल्हे के आगे आगे बैंड-बाजा बजाते चल रहे बैंड वालों को पु’लिस ने रोक लिया और सभी को उनके साज के साथ थाने में बिठा दिया, वहीं घोड़ी चढ़ा दूल्हा यह सब देख रुआंसा हो गया। हालांकि बाद में स्थानीय संभ्रांत लोगों के अनुनय-विनय के बाद पु’लिस ने बैंड वालों को हिदायत देकर छोड़ दिया।

मामला मथुरा के थाना कोसीकलां क्षेत्र का है जहां कस्बा में एक घुड़चढ़ी का कार्यक्रम था। दूल्हा घोड़ी पर सवार हुआ तो बैंड बाजे वाले भी फिल्मी गानों को धुन बजाने लगे। घुड़चढ़ी कोसीकलां थाने के सामने पहुंची तो शो’रगुल सुनकर पु’लिस ने बैंड वालों को रोक लिया और सभी को थाने में बिठा लिया जबकि यह सब देख बेचारा दूल्हा घोड़ी पर बैठ रुआंसा हो गया। घुड़चढ़ी में बैंड वालों को पु’लिस द्वारा पकड़े जाने को खबर पूरे कस्बे में आग की तरह फैल गई और जिन लोगों के यहां शादी समा’रोह के कार्यक्रम थे, सभी के कान खड़े हो गए।

मामले की जानकारी होने पर कस्बे के संभ्रात नागरिक थाने पहुंचे और किसी तरह मामले को शांत कराया। काफी देर बाद पु’लिस ने बैंड बाजे वालों को माफी मांगने पर यह हिदा’यत देकर छोड़ा कि अब वे सड़क पर नहीं, बल्कि विवाहस्थल पर ही बैंड बजाएंगे। एसएचओ प्रमोद पंवार ने बताया कि केवल विवाह स्थल में ही बैंड-बाजे बजाए जाएंगे, सड़क पर नहीं। उन्होंने बताया कि पकड़े गए लोगों को हिदा’यत देकर छोड़ दिया गया है।