Categories
Other

दिग्विजय की हिरासत पर सीएम कमलनाथ ने बीजेपी पर लगाए गंभीर आरोप

मध्य प्रदेश की राजनीति में हर दिन एक नया रोचक मोड़ सामने आ रहा है. आपको बता दें कि आज यानी की बुधवार को कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह, डीके शिवकुमार को पुलिस ने बेंगलुरु से हिरासत में ले लिया है. जिसके बाद एमपी के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने बीजेपी पर निशाना साधा है. जिसमें उन्होंने कहा कि बीजेपी के द्वारा लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या की जा रही है.

आपको बता दें कि भारतीय जनता पार्टी पर निशाना साधते हुए कमलनाथ ने लिखा है कि, ‘बेंगलुरु में भाजपा द्वारा बंधक बनाये गये कांग्रेस विधायकों से मिलने गये कांग्रेस के राज्यसभा उम्मीदवार दिग्विजय सिंह व कांग्रेस के मंत्रियों, विधायकों को मिलने से रोकना, उनसे अभद्र व्यवहार करना, उन्हें बलपूर्वक हिरासत में लेना पूरी तरह से तानाशाही व हिटलर शाही है.’

आगे मुख्यमंत्री कमलनाथ ने ये भी लिखा कि भारतीय जनता पार्टी एक चुनी हुई सरकार को अस्थिर कर रही है और लोकतांत्रिक मूल्यों की हत्या कर रही है. कमलनाथ ने सवाल किया कि आखिर विधायकों से मिलने क्यों नहीं दिया जा रहा है? बीजेपी किस बात से डर रही है? बीजेपी प्रदेश में एक गंदा खेल खेल रही है.

जानकारी के अनुसार आपको बता दें कि बुधवार सुबह जो 16 कांग्रेसी विधायकों बेंगलुरु में रुके हुए थे उनसे मिलने कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह वहां पहुंचे थे. लेकिन जैसे ही वो रिजॉर्ट पहुंचे तो उन्हें हिरासत में ले लिया गया. कमलनाथ ने इसी मसले पर आरोप लगाया कि लोकतांत्रिक मूल्यों, संवैधानिक मूल्यों व अधिकारों का दमन किया जा रहा है. साथ ही कमलनाथ ने ये अपील भी है कि हमारे नेताओं को तुरंत रिहा किया जाना चाहिए.

दिग्विजय ने बीजेपी सरकार को घेरा

वहीं हिरासत में लिए जाने को लेकर दिग्विजय सिंह ने बीजेपी पर आरोप लगाया कि वो राज्यसभा चुनाव के लिए पार्टी के उम्मीदवार हैं और अपने विधायकों से मिलना चाहते हैं. दिग्विजय सिंह ने ये भी दावा किया है कि अगर वो विधायकों से बात करेंगे, तो विधायक उनके साथ आने को तैयार हो जाएंगे. आपको बता दें कि कांग्रेस नेता दिग्विजय सिंह के साथ-साथ डीके शिवकुमार समेत दर्जनों नेताओं को हिरासत में लिया गया है. कांग्रेस से बगावत करने वाले 16 विधायक बेंगलुरु के एक रिजॉर्ट में हैं.