Categories
Other

सीएम उद्धव ठाकरे ने प्रवासी मजदूरों को लेकर कही ये बात, बोले- ‘घर भेजने की व्यवस्था…’

कोरोना वायरस के संकट की वजह से पूरे देश में 24 मार्ट से ही लॉकडाउन लागू है. ऐसे में जब पूरा देश बंद है तो प्रवासी मजदूरों को बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है. इसी सब को लेकर आज महाराष्ट्र के सीएम उद्धव ठाकरे ने कहा कि वे प्रवासी मजदूरों को बस से घर भेजने की व्यवस्था करेंगे. उन्होंने बताया कि इसको लेकर राज्य सरकारों से बातचीत हो रही है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि वे प्रवासी मजदूरों को विश्वास दिलाते हैं कि वे केंद्र से बात कर रहे हैं और जो भी संभव होगा वह जल्द ही किया जाएगा. एक बात निश्चित है कि ट्रेनें शुरू नहीं हो रही हैं क्योंकि हम भीड़ नहीं चाहते हैं, नहीं तो लॉकडाउन को आगे बढ़ाने की आवश्यकता होगी.

कल प्रधानमंत्री से दोबारा बात होगी- उद्धव ठाकरे

उद्धव ठाकरे ने कहा, ”मैं परप्रांतीय मजदूरों से कहना चाहता हूं कि आपके लिए लगातार चर्चा जारी है. लेकिन अब ट्रेन शुरू नहीं होगी क्योंकि इससे खतरा बढ़ सकता है. जो हो सकता है वो बात कर रहे हैं. कोटा में हमारे कुछ छात्र हैं, उनके लिए लगातार बात चल रही है. रास्ता निकालने की कोशिश की जा रही है. हमारे यहां बिहार और यूपी के लोग अटके तो नहीं हैं लेकिन वे अपने गांव जाना चाहते हैं, उन्हें हम भेजने की इंतज़ाम करेंगे. ट्रेन तो नहीं चलेंगी लेकिन राज्य सरकारों से बातचीत चल रही है. हम उन्हें बस से भेजेंगे. कल प्रधानमंत्री से दोबारा बात होगी.”

इस सब के साथ ही उन्होंने कहा कि जो लोग छुप रहे हैं और टेस्ट नहीं करा रहे हैं, अगर आपको लक्षण है तो जरूर टेस्ट कराएं. उन्होंने कहा, ”अगर लक्षण नजर आता है तो तुरंत डॉक्टर को जाकर बताएं. कोरोना के लिए दवाई नहीं है फिर भी अगर सही से हमने हमारा ख्याल रखा तो इससे बचा जा सकता है. अपने आसपास जो सरकारी अस्पताल हैं वहां जाकर आप इसे बता सकते हैं।”