Categories
Other

सीएम योगी ने अखिलेश यादव को लगाया फोन, जानिए क्या थी वजह

यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ और पूर्व सीएम और समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव के बीच सियासी तनाव हमेशा जारी रहता है. ये बात किसी से अब छिपी नहीं है. साथ ही दोनों एक-दूसरे से बातचीत तक नहीं करते हैं. लेकिन आप यकीन नहीं करेंगे कि पिछले दिनों योगी आदित्यनाथ ने अखिलेश यादव को फोन लगाकर बातचीत की है.

आपको बता दें कि दोनों नेताओं के बीच पिछले कुछ दिनों में दो बार बात हुई है. बताते चलें कि बीते शुक्रवार को हुई बातचीत में पहले दोनों नेताओं ने एक-दूसरे का हालचाल पूछा. बातचीत में सीएम योगी ने अखिलेश यादव से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा का भी मुद्दा उठाया. सीएम योगी ने अखिलेश यादव से शिकायत की है कि उनके कार्यकर्ताओं ने प्रधानमंत्री मोदी को वाराणसी दौरे में काले झंडे दिखाने की कोशिश की थी.

जानकारी के मुताबिक बता दें कि मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि ये दूसरी बार है, जब प्रधानमंत्री की सभा में व्यवधान डालने की कोशिश समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता ने की. मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि इस मामले को अपने स्तर पर देखें क्योंकि प्रधानमंत्री की सुरक्षा सीधे-सीधे एसपीजी के हाथों में होती है. बार-बार ऐसी घटनाएं ठीक नहीं है, क्योंकि ऐसा होने पर एसपीजी अब सीधे निपट सकती है.

वहीं अखिलेश यादव ने भी प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर योगी की बात पर सहमति जताई लेकिन इसके साथ ही कन्नौज में जो उनके साथ हादसा हुआ था उसका भी जिक्र किया, जिसमें उनके खुद के भाषण के दौरान एक शख्स ने जय श्री राम का नारा लगाना शुरू किया.

सूत्रों के मिली जानकारी के मुताबिक अखिलेश यादव ने अपनी शिकायत भी मुख्यमंत्री योगी से दर्ज करा दी. हालांकि दोनों नेता इस बात पर सहमत थे कि प्रधानमंत्री की सुरक्षा को लेकर किसी तरह का समझौता नहीं किया जा सकता. आपको बता दें कि बीते 29 फरवरी को बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के उद्घाटन समारोह के दौरान समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने पीएम को काले झंडे दिखाए थे।