Categories
Other

सीएम योगी ने होली पर लिया बड़ा फैसला, टूट जाएगी अब वर्षों की परंपरा

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने साल 2017 में भारतीय जनता पार्टी की तरफ से यूपी में कमान संभाली थी और केन्द्रीय की ओर से जो भी जिम्मेदारी मिली उसे बखूबी निभा रहे हैं. आपको बता दें कि गोरखपुर में रहने वाले योगी आदित्यनाथ ने इस बार होली पर एक बहुत बड़ा फैसला ले लिया है. बताते चलें कि उनके इस फैसले से सालों की परंपरा टूटने जा रही है तो चलिए आपको आखिर वो परंपरा क्या है।

ये है योगी आदित्यनाथ का फैसला

उत्तर प्रदेश के सीएम योगी ने इस बार होली पर बहुत बड़ा फैसला ले लिया है. उन्होंने इस बार होली न खेलने का निर्णय लिया है. इसके साथ उन्होंने ये भी फैसला लिया है कि वो नरसिंह यात्रा में भी हिस्सा नहीं लेने वाले हैं. आपको बता दें कि इसकी वजह कोरोना वायरस का फैसला खतरा है. कोरोना वायरस फैलने की वजह से सीएम के अपने सभी कार्यक्रमों को रद्द कर दिया गया है. साथ ही वो गोरखपुर में होलिका दहन के समारोह में भी शामिल नहीं होंगे।

जानकारी के मुताबिक आपको बता दें कि योगी ही नहीं बल्कि पीएम मोदी समेत भाजपा के बड़े नेता भी इस बार होली से जुड़े किसी भी कार्यक्रम में शामिल नहीं होने वाले हैं. बताते चलें कि योगी के इस फैसले से बड़ी परंपरा टूटने जा रही है. जो भी गोरक्ष पीठाधीश्वर होता है, सीएम योगी आदित्यनाथ पिछले कई सालों से नरसिंह यात्रा में हिस्सा लेते रहे हैं और होली खेलते हैं. यह परंपरा अवैध्यनाथ और दिग्विजय नाथ के समय से चली आ रही है. लेकिन बता दें कि इस साल सीएम योगी के न आने के चलते ये परंपरा टूट जाएगी।