Categories
Other

कोरोना संक्रमण के कारण कांग्रेस ने केंद्र सरकार के विरुद्ध शुरू किया इस तरह से प्रोटेस्ट

कोरोना वायरस को लेकर देश में लॉक डाउन 4.0 में बंधि’शों को लेकर छूट दे दी गई हैं. लेकिन उसके बाद कोरोना वायरस के मरीज आये दिन बढ़ते जा रहें हैं. देश में कोरोना संक्रमण के बढ़ते आंकड़ों और लॉकडाउन में मिली ढील के चलते राजनीतिक सरगर्मियां तेज होने लगी हैं. लॉकडाउन की मार झेल रहे प्रवासी श्रमिकों और किसानों के मुद्दे पर कांग्रेस नरेंद्र मोदी सरकार को घेरने के लिए वर्चुअल यानी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर आंदोलन कर रहे हैं. कांग्रेस नेता और कार्यकर्ता श्रमिकों, किसान और छोटे दुकानदारों के लिए गुरुवार को 11 बजे से 2 बजे तक राहत पैकेज की मांग ऑनलाइन प्लेटफॉर्म पर रखी.

कोरोना संकट और लॉकडाउन के चलते कांग्रेस ने सड़क पर उतरने की बजाय सोशल मीडिया के जरिए सरकार को घेरने की रणनीति बनाई है. कांग्रेस के शीर्ष नेतृत्व से लेकर पार्टी कार्यकर्ता सभी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म- फेसबुक, ट्विटर, यू ट्यूब और इंस्टाग्राम अकाउंट पर अपने-अपने घरों से ऑनलाइन आकर गरीब, मजदूरों, किसानों, असंगठित कर्मचारियों और छोटे दुकानदारों के मुद्दा उठा रहे हैं. कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एक वीडियो संदेश जारी कर कहा कि पिछले दो महीने से गरीब, मजदूर और किसान परेशान है.

आजादी के बाद पहली बार है कि मजदूर हजारो और सैकड़ो किमी. भूखे प्यासे पैदलचलकर अपने घर वापस जा रहे हैं. मजदूरों और गरीबों के डर और पीड़ा को सरकार नहीं समझ रही है. कोरोना संकट और लॉकडाउन के चलते करोड़ो रोजगार चले गए गए किसान की फसल बर्बाद हो गई है. कांग्रेस के साथी, अर्थशास्त्री, समाजशास्त्री से लेकर तमाम लोग लगातार सरकार से आर्थिक मदद की गुहार लगा रहे हैं. ऐसे में हम एक कांग्रेस के साथियों ने भारत की आवाज को बुलंद करने के लिए समुचित अभियान चला रहे हैं.