Categories
Other

कांग्रेस के बड़े दिग्गज नेता का हुआ निधन, पार्टी में छाई शोक की लहर

अशोकनगर के पूर्व विधायक बलवीरसिंह कुशवाह का बुधवार को हृदयघात के कारण निधन हो गया. उनके निधन की खबर जैसे ही लोगों को मिली शहर में शोक छा गया. आपको बता दें कि बलवीर सिंह कुशवाह कांग्रेस के नेता होने के साथ-साथ वर्ष 1998 से लेकर 2003 तक मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के कार्यकाल में विधायक रहे थे.

उन्होंने ये चुनाव के खिलाफ बसपा से लड़ा था. जिसके बाद में दिग्विजय सिंह के प्रयासों से वो कांग्रेस पार्टी में आए और उनके निकट रहे थे. इससे पहले उन्होंने 1993 का विधानसभा चुनाव भी बसपा के टिकिट पर लड़ा था, लेकिन कम मतों के अंतर से वो चुनाव में हार गए थे. आपको बता दें कि उन्होंने अपनी राजनीति की शुरूआत भारतीय जनता पार्टी से की थी किन्तु भाजपा में मतभेद हो जाने के कारण वो बसपा में शामिल हो गए थे. साथ ही बलवीर सिंह कुशवाह नगरपालिका अशोकनगर में उपाध्यक्ष भी रहे है.

उन्होंने 2009 के नगरपालिका चुनावों में भी निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में नगरपालिका अध्यक्ष का चुनाव लड़ा था. उनकी पत्नी नारायणीबाई कुशवाह कृषि उपज मंडी की अध्यक्ष रह चुकी हैं जबकि उनका पुत्र राजेन्द्र कुशवाह नगरपालिका परिषद में पार्षद रह चुके हैं. आपको बता दें कि वो अशोकनगर के लोकप्रिय नेताओं में से एक थे. उनके निधन पर अनेक संस्थाओं ने शोक संवेदनाएं व्यक्त की हैं. उनकी अंतिम शवयात्रा उनके स्वनिवास से निकाली गई जिसमें बड़ी संख्या में लोगों ने भाग लिया और अपने श्रद्घा सुमन अर्पित किए. अशोकनगर को जिले का दर्जा भी उन्हीं के कार्यकाल में मिला था।

Leave a Reply

Your email address will not be published.