Categories
Other

मोदी सरकार इन 2 केंद्रशासित प्रदेशों को लेकर उठा सकती है ये बड़ा कदम

मोदी सरकार ने जम्मू-कश्मीर को दो केंद्रशासित प्रदेशों जम्मू और कश्मीर और लद्दाख में विभाजित करने का फैसला लिया था इसके बाद अब 2 केंद्रशासित प्रदेशों- दमन व दीव और दादरा एवं नगर हवेली को मिलाकर एक केंद्रशासित प्रदेश बनाने जा रही है. 3 महीने बाद सरकार क्या अहम फैसले लेने वाली है. पढे़ं पूरी खबर विस्तार में

केंद्रीय मंत्री अर्जुन मेघवाल ने बताया कि दादर और नगर हवेली और दमन व दीव जो की 2 केंद्रशासित प्रदेशों को मिलाकर एक केंद्रशासित प्रदेश बनाएगे. इसी संबंध को लेकर लोकसभा में विधेयक अगले हफ्ते पेश किया जाएगा. अधिकारियों ने कहा कि गुजरात के पास पश्चिमी तट पर स्थित इन दोनों केंद्रशासित प्रदेशों का विलय बेहतर प्रशासन और विभिन्न कार्यों के दोहराव की जांच और निगरानी के उद्देश्य से किया जा रहा है।

देखनेवाली बात ये है कि दोनों केंद्रशासित प्रदेशों में केवल 35 किमी की दूरी है लेकिन दोनों प्रदेशों में अलग-अलग बजट और अलग-अलग सचिवालय हैं. दादरा और नगर हवेली में सिर्फ एक जिला है जबकि दमन और दीव में दो जिले हैं. विलय के बाद केंद्रशासित प्रदेश का नाम दादरा नगर हवेली, दमन और दीव हो सकता है जबकि इसका मुख्यालय दमन और दीव होने की संभावना है.5 अगस्त को केंद्र सरकार ने अनुच्छेद 370 के तहत जम्मू और कश्मीर को दिए गए विशेष दर्जे के अधिकांश प्रावधानों को समाप्त करने और राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित करने की घोषणा की थी। वर्तमान में जम्मू और कश्मीर और लद्दाख के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद अब 9 केंद्रशासित प्रदेश हैं. दमन और दीव और दादरा और नगर हवेली के विलय के बाद इनकी संख्या घटकर आठ हो जाएगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.