Categories
News

13 महीने बाद हुआ बड़ा खुलासा, बाथरूम में सभी से छिपकर बुरी तरह रोए थे MS Dhoni………

खबरें

भारतीय टीम के पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धौनी ने अपना आखिरी मैच वर्ल्ड कप 2019 के दौरान खेला था। भारत ने टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड का सामना किया था। 9 जुलाई 2019 को शुरू हुआ ये वनडे मैच बारिश के कारण दो दिन चला था। मुकाबले के दूसरे दिन भारत को वर्ल्ड कप के फाइनल में पहुंचने के लिए 240 रन का लक्ष्य मिला था। 240 रन के लक्ष्य और भारतीय बल्लेबाजी यूनिट को देखते हुए कहा जा रहा था कि भारत इसे आसानी से हासिल कर लेगा, लेकिन जो लगता है वो होता नहीं है।

भारतीय टीम के 3 विकेट 5 पर गिर पड़े। भारतीय टीम के उपकप्तान रोहित शर्मा, कप्तान विराट कोहली और ओपनर केएल राहुल एक-एक रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद दिनेश कार्तिक भी 6 रन बनाकर चलते बने। भारत का स्कोर 24 रन पर 4 विकेट था। इसके बाद हार्दिक पांड्या और रिषभ पंत के बीच 47 रन की साझेदारी हुई, लेकिन रिषभ पंत 32 रन बनाकर आउट हो गए। अब क्रीज पर धौनी आ चुके थे, लेकिन पांड्या ने धौनी का साथ नहीं दिया। पांड्या 32 रन बनाकर आउट हो गए और टीम का स्कोर 92-6 हो गया।

अब क्रीज पर धौनी और रवींद्र जड़ेजा थे। ये बल्लेबाजी को देखते हुए भारत की आखिरी जोड़ी थी, क्योंकि इनके बाद कोई ऐसा खिलाड़ी नहीं था, जिस पर एक बाउंड्री तक लगाने का भरोसा किया जा सके। धौनी ने जडेजा के साथ पारी को आगे बढ़ाया और टीम को 100 के स्कोर के पार भेजा। धीमे-धीमे दोनों बल्लेबाजों ने टीम को 150 के पार पहुंचा दिया। कुछ ही देर बाद जडेजा ने बड़े शॉट लगाने शुरू किए और स्कोर 200 के पार पहुंच गया। यहां से भारत को जीत दिखाई देने लगी थी, लेकिन जड़ेजा 59 गेंदों में 77 रन की पारी खेलकर आउट हो गए।

धोनी को अब भुवनेश्वर कुमार के साथ बल्लेबाजी करनी थी और बाकी के 32 रन बनाने थे, लेकिन 49वें ओवर की तीसरी गेंद पर धौनी मार्टिन गप्टिल के एक सीधे थ्रो के सामने बेबस हो गए और रन आउट हो गए। धौनी ने अर्धशतक पूरा कर लिया था, लेकिन ये किसी काम का नहीं था, क्योंकि अब भारत के पास कोई ऐसा बल्लेबाज नहीं था जो 9 गेंदों में 24 रन बना सके। धौनी ये काम कर सकते थे, लेकिन वे रन आउट होकर मायूस होकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद भारत की हार सभी ने देखी, लेकिन धौनी का रोना किसी ने नहीं देखा, जिसका खुलासा अब हुआ है।

दरसअल, बीसीसीआइ के एक सीनियर अधिकारी ने खेल संपादक को बताया था कि जब न्यूजीलैंड के खिलाफ भारतीय टीम सेमीफाइनल मुकाबले में हारी थी तो धौनी ड्रेसिंग रूम के अंदर बने बाथरूम में मुंह में कपड़ा ठूंसकर रो रहे थे, जिससे आवाज बाहर नहीं जाए। इस बात से अंदाजा लगाया जा सकता है कि वो टूर्नामेंट धौनी के लिए कितना अहम था। खुद रोहित शर्मा अपने पूर्व कप्तान के लिए वो वर्ल्ड कप जीतना चाहते थे, लेकिन टूर्नामेंट में 5 शतक लगाने वाले हिटमैन सेमीफाइनल में फेल हो गए थे।