Categories
Other

जा’मि’या गो’ली कां’ड में ह’मलावर ने इतने रुपये में खरीदा था तमंचा

राजधानी दिल्ली के जामिया नगर में गुरूवार को दि’नदहा’ड़े गोपाल नाम के एक युवक ने फा’यरिं’ग की थी. जिसके बाद एक गो’ली शादाब नाम के युवक को लग गई थी. जो जा’मिया का ही छात्र बताया जा रहा है. ऐसे में जानना जरुरी हो जाता है की आखिर गोपाल कौन हैं, जिसने दि’नदहा’ड़े राजधानी दिल्ली में सैकड़ों लोगों के सामने गो’ली चलाने की जह’मत उठाई थी.

आपको बता दें कि जामिया गोली कांड में फायरिंग करने वाले युवक ने दस हजार रुपये में देसी असलहा खरीदा था. पुलिस को ये जानकारी मिली है. वहीं आरोपी युवक को 14 दिनों के लिए प्रतिबंधात्मक हिरासत में भेज दिया गया है. जानकारी के मुताबिक आपको बता दें कि पुलिस का कहना है कि दसवीं की मार्कशीट और आधार कार्ड में दर्ज उम्र के मुताबिक गोपाल नाबालिग है. जिसके बाद पुलिस ने जुवेनाइल जस्टिस बोर्ड का रुख किया है.

आपको बता दें कि गोपाल यूपी के गौतमबुद्ध नगर के जेवर का रहने वाला है उसके पिता पान की दुकान चलाते है. गोपाल ने अपने फेसबुक टाइम’लाइन पर बदला लेने की बात लिखी है और वीडियो भी पोस्ट किया है. गोपाल के बारे में सिर्फ इतनी ही जानकारी अभी तक सार्वजनिक हुई है. अगर कोर्ट की ओर से इजाजत दी जाती है तो गोपाल के उम्र की जांच दिल्ली के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में की जाएगी.

सूत्रों के मुताबिक अगले 14 दिनों तक पुलिस उससे पूछताछ करने में सक्षम नहीं होगी. पुलिस ने युवक से पूछताछ की थी लेकिन अब उससे जुड़े हुए लोगों से पूछताछ की जाए.गी. आपको बता दें गोपाल ने उस समय फा’य’रिं’ग की थी जब जामिया के छात्र नागरिकता क़ानून के खिलाफ प्रद’र्शन कर रहे थे. छात्र आजादी के नारे लगा रहे थे. छात्रों का ये मार्च राजघाट तक जाना था. इस बीच गोपाल हाथ में पि’स्टल लह’राता हुआ वहां आ पहुंचा. कट्टा ल’ह’राते हुए गोपाल चि’ल्ला रहा था- मैं हूं राम भक्त गोपाल, आओ तुम्हें देता हूं आजादी. ये कहने के बाद उसने गो’ली चला दी थी।