Categories
News Other

हा’थ’र’स गैंग’रेप कांड: CM यो’गी ने ब’ना’ई SIT, पूरे मामले की करेगी छा’न’बी’न पूरा मा’म’ला अब जा’एगा…

हिंदी खबर

हा’थ’रस की बे’टी के सा’थ प’ह’ले तो है’वा’नों की दरिं”दगी और फिर पु’लि’स’वा’लों की अ’मा’न’वीय’ता से पूरे देश में आ’क्रो’श है. कल देर रात लड़’की का अं’तिम संस्’कार कर दिया गया. अब हा’थ’रस केस में जां’च के लिए ‘ का गठ’न हो गया है. सी’एम यो’गी आदि ‘त्यनाथ के आ’दे’श के बाद गृ’ह स’चि’व भग’वान ‘ की अध्यक्षता में तीन सद’स्’यीय एस’,आ’ईटी टीम मा’मले की जां’च करेगी..

एस’आईटी’ में दलि”त और म’हि’ला अधि’कारी भी शा’मि’ल हैं.. गृह स:चिव भगवा’न स्वरूप, डीआईजी चंद्र प्रकाश और पीए’सी पून’म एसआ’ईटी के सदस्’य होंगे. मुख्य’मंत्री यो’गी आदित्य’नाथ ने पूरे मा’मले को फास्ट ट्रैक’ कोर्ट’ में लाने के नि’र्देश दिया है. इस ‘ में स’भी चा’रों आरो’पी पु’लि’स की गिर”फ्त में है.

गौ’रत’ल’ब है कि हाथर’स जिले के चंद’पा थाने के गांव में 14 सितं’बर में ‘ लड़’की के साथ गैं’ग’रेप की घटना को अंजा’म दि:या गया. इसके साथ ही उस पर जान’लेवा हमला कि’या गया. परि’वार वालों ‘का आरो’प है कि सु’बह सा’ढ़े नौ ब’जे के करीब चार दबं’गों ने ल’डकी के सा’थ गैंग रे’प औ’र दरिंद’गी की. घट’ना के 9 दिन बाद लड़”की होश में आई तो इ”शारों से अ,पना , बया’न किया.

पी’ड़ि’ता को पह’ले अ’ली’गढ़ में इ’लाज के लि’ए भेजा गया’ और वहां हाला’त बि’ग’ड़ने पर उन्हें सफदरजंग अस्प:ताल में भे:जा गया।
लेकिन अफ’सोस, यहां भी उस पीड़ि:ता को बचाया नहीं जा सका और मंग’लवार सुबह उस ल’ड़,’की ने दम तोड़ दिया. इसके बाद’ पूरे दे’श में वि’रो’ध प्रदर्श’न शुरू हो गया.

दि’ल्ली के स’फ’दर’जंग अस्प’ताल में ‘मौ’त के बाद पु’लि,स ‘ को ले’कर ‘ पहुं’ची. उस वक्त रात के 12 ब’जकर 45 मिनट हो रहे थे. एंबुलेंस के पहुंचते ही लो’गों ने विरो’ध ‘ शुरू कर दिया. नाराज ग्रा’मीण स’ड़’क पर ही लेट गए. एस’पी-डीए’म ल’ड़की ‘के बेबस ‘पिता को अं’ति’म संस्का,र के लिए सम”’झाते रहे.

घ’रवा’लों की तो बस’ इतनी’ सी इच्छा’ थी कि वो अप’नी बे”टी का री’ति-रिवा’ज के सा’थ अं’ति’म संस्’का,र करें। परिज’न शव’ को अपने घ’र ले’कर जा,ना चाहते, थे, लेकि,न पुलि’स अपनी ‘जिद से टस से म,स नहीं हुई. करीब 200 की संख्’या में पु’लि,सवा’ले घर’वालों’ की मां’ग ठुक’राते हुए ला’श को रात 2 बजकर 20 ‘ पर’ अं’ति’म संस्’कार के लिए ले गए.

पु’लिसवा”लों ने अंति’म सं’स्का’र के वक्त’ घेरा बना लिया. किसी को चि’ता के पास जा’ने तक न,हीं दिया,. ‘ के इस’ रवै’ये पर ग्रामी’णों में ज,बरद’स्त गु’स्सा’ है.