Categories
News

HC का बड़ा फै’सला, बा’लिग लड़का-लड़की अपनी मर्जी से किसी के साथ भी कर सकते हैं….

खबरें

इ’ला’हाबा’द हा’ईको’र्ट ने अ’पने एक अहम फै’स’ले में कहा है कि बा’लिग लड़’का और ल’ड़की अपनी म’र्जी से पसंद के कि’सी भी व्य’क्ति के साथ रह सकते हैं. उनके जीवन में ह’स्तक्षे’प करने का कि’सी को अ’धिका’र नहीं है. हा’ईको’र्ट ने कहा कि हा’लांकि सं’वि’धान प्रत्ये’क व्य’क्ति को अपनी प’संद का ध’र्म अ’पना’ने का अ’धि’कार देता है, लेकिन महज शादी के लिए धर्म प’रिवर्त’न किया जा रहा है, जो कि गल’त है.

हा’ईको’र्ट ने अपने फैस’ले में कहा है कि वि’शेष वि’वाह अधिनियम के तहत बिना ध’र्म बदले दो ध’र्मों को मा’नने वाले शादी कर वै’वाहि’क जीवन बिता सकते हैं. यह कानून सभी धर्म के मानने वालों पर लागू है. इसके बावजूद लोग शा’दी करने के लिए धर्म प’रिव’र्तन कर रहे हैं, जो सही नहींं है.

कोर्ट ने वि’परीत ध’र्मों के या’चियों को अप’नी म’र्जी से कहीं भी किसी के साथ रहने के लिए स्वतं’त्र कर दिया है. यह आ’देश जस्टि’स जे’जे मु’नीर की ए’कल पीठ ने स’हारन’पुर की पूजा उर्फ जो’या व शा’ह’वेज की याचि’का पर दि’या है.

इस मामले पर दिया फै’सला


गौर’तल’ब है कि पू’जा ने घर से भाग कर शा’हवे’ज से शादी कर ली. जब परि’वा’र को पता च’ला तो उसे पक’ड़ लाये और घर में न’जरबं’द कर दिया. जिस पर यह याचि’का दा’खिल की गयी. को’र्ट ने 18 साल की लड़की या’ची को पे’श करने का नि’र्देश दिया. पिता द्वारा पे’श न करने पर ए’सपी स’हारन’पुर को लड़की को पेश करने का नि’र्देश दिया. को’रो’ना जांच रिपो’र्ट आने के बाद अ’दाल’त में पेश लड़की ने कहा कि वह अपने प’ति के साथ रह’ना चाहती है. को’र्ट ने ल’ड़की के ब’या’न के आधार पर उसे अपनी म’र्जी से जाने के लिए स्व’तंत्र कर दिया.