Categories
Other

खुशखबरी: गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन में फंसे मजदूरों और छात्रों के लिए स्पेशल ट्रेन चलाने का दिया आदेश

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लॉकडाउन के कारण फंसे हुए लोगों की आवाजाही के लिए ट्रेनों के इस्तेमाल की अनुमति दे दी है. एक अधिकारी ने इसकी जानकारी दी. दरअसल, कोरोना वायरस को फैलने से रोकने के लिए पिछले 38 दिनों से जारी लॉकडाउन की वजह से देश भर में जगह-जगह लोग फंसे हैं. इनमें ज्यादातर कामगार और छात्र हैं.

गृह मंत्रालय के अधिकारी ने कहा, ”रेल से मजदूरों, तीर्थयात्रियों और छात्रों की आवाजाही के बारे में आदेश दे दिए गए हैं. रेलवे बोर्ड इसकी व्यवस्था करेगा.” राज्यों को रेलवे बोर्ड से संपर्क करना होगा. इससे पहले तेलंगाना से झारखंड के लिए एक स्पेशल ट्रेन चलाई गई है. इस ट्रेन में 1200 प्रवासियों को रवाना किया गया है. आरपीएफ के डीजी अरुण कुमार ने बताया, “24 बोगियों वाली ये ट्रेन शुक्रवार सुबह चार बजकर 50 मिनट पर रवाना हुई.” उन्होंने बताया कि यह प्रवासियों के लिए अब तक चलने वाली पहली ट्रेन है.

इसके बाद अब केरल से करीब 12,00 प्रवासी मजदूरों को लेकर यहां के अलुवा रेलवे स्टेशन से एक विशेष ट्रेन ओडिशा के भुवनेश्वर के लिए शुक्रवार शाम को रवाना होगी. राज्य मंत्री वीएस सुनील कुमार ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि लॉकडाउन लागू होने के बाद से ही ओडिशा के प्रवासी मजदूर एर्नाकुलम जिले के राहत कैंपों में ठहरे हुए थे.