Categories
Other

सरकार बचाने के लिए कमलनाथ ने खेला नया दाव, अब बीजेपी पर लगाया ये आरोप

मध्य प्रदेश में कमलनाथ सरकार की अब उल्टी गिनती शुरू हो चुकी हैं. आपको बता दें कि सरकार बचाने के लिए सीएम कमलनाथ और दिग्विजय सिंह हर संभव कोशिश कर रहे हैं वहीं दूसरी ओर बात करें पूर्व सीएम शिवराज सिंह चौहान की तो उन्होंने राज्यपाल लाल जी टंडन के समक्ष अपने 106 विधायकों की परेड करवाई और लिस्ट सौंपी.

जिसके बाद से ऐसा लग रहा है कि कांग्रेस की मुश्किलें और बढ़ गई हैं लेकिन बताते चलें कि सीएम कमलनाथ भी अपनी सरकार बचाने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही हैं.

जानकारी के लिए बता दें कि मध्यप्रदेश के राज्यपाल लाल जी टंडन ने कमलनाथ को चिट्ठी लिखी थी कि 16 मार्च को वो फ्लोर टेस्ट करें नही तो ये माना जाएगा कि मौजूदा सरकार विश्वास खोती जा रही है. इसी बीच आपको बता दें कि एक खबर एमपी से भी आ रही है.

आपको बता दें कि एमपी का सियासी संग्राम अभी कुछ दिन तो खत्म होने नहीं वाला है. एक तरफ जहाँ बीजेपी अपनी सरकार बनाने के लिए पूरी कोशिश कर रही है और वो अपने विधायकों की परेड भी करवा चुकी है. तो वहीं दुसरी ओर कमलनाथ ने भी सरकार बचाने के लिए पूरा जोर रखा है.

खबर ये भी आ रही है कि एमपी में चल रही सियासत को लेकर बीजेपी के बाद अब कांग्रेस भी सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई है और उन्होंने सरकार बचाने के लिए नया दाव चल दिया है. आपको बता दें कि कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करते हुए कहा है कि बीजेपी ने कांग्रेस के 16 विधायकों का अपहरण कर बंधक बनाने का आरोप लगाया है. उन्होंने अपनी याचिका में कहा है कि इन विधायकों की गैर मौजूदगी में विश्वास मत नहीं हो सकता है।