Categories
Other

अभी अभी कोरो’ना पर मोदी सरकार की चे’ता’वनीः हालात हुए बदतर, फिर से लगेगा…..👇

खबरें

केंद्र सरकार ने को’रो’ना सं’क्रम’ण पर सभी राज्यों और देशवासियों को आगाह किया है। केंद्र ने मंगलवार को कहा कि को’रो’ना वा’यरस सं’क्र’मण संबंधी स्थिति ‘बद से बदतर हो रही है’ और यह खासतौर पर कुछ राज्यों के लिए बड़ी चिंता का विषय है। सरकार ने कहा कि पूरा देश जो’खिम में है, ऐसे में किसी को भी ला’परवाही नहीं करनी चाहिए।

सरकार ने बताया है कि कोविड-19 से सर्वाधिक प्रभावित 10 जिलों में से आठ महाराष्ट्र से हैं और दिल्ली भी एक जिले के रूप में इस सूची में शामिल है।

वो 10 जिले कौन, जान लीजिए
स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि जिन दस जिलों में सर्वाधिक उपचाराधीन मामले हैं, उनमें पुणे (59,475), मुंबई (46,248), नागपुर (45,322), ठाणे (35,264), नासिक (26,553), औरंगाबाद (21,282), बेंगलुरु नगरीय (16,259), नांदेड़ (15,171), दिल्ली (8,032) और अहमदनगर (7,952) शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि तकनीकी रूप से दिल्ली में कई जिले हैं, लेकिन इसे एक जिले के रूप में लिया गया है। नीति आयोग के सदस्य (स्वास्थ्य) वी के पॉल ने कहा, ‘कोविड-19 संबंधी स्थिति बद से बदतर हो रही है। पिछले कुछ सप्ताहों में, खासकर कुछ राज्यों में, यह एक बड़ी चिंता विषय है। किसी भी राज्य, देश के किसी भी हिस्से या जिले को लाप’रवाही नहीं बरतनी चाहिए।’

उन्होंने कहा, ‘हम काफी अधिक गंभी’र स्थिति का सामना कर रहे हैं, निश्चित तौर पर कुछ जिलों में। लेकिन पूरा देश जो’खिम में है, इसलिए रोकने और जीवन बचाने के सभी प्रयास किए जाने चाहिए।’ पॉल ने कहा, ‘अस्प’ताल और आ’ईसीयू संबंधी तैयारियां तैयार रहनी चाहिए। यदि मा’मले तेजी से बढ़े तो स्वास्थ्य प्रणा’ली च’रमरा जाएगी।’

दिल्ली का हाल समझ लीजिए
बाजारों में भीड़ देखकर लापरवाही का अंदाजा लगाया जा सकता है। दिल्ली में कोरो’ना वा’यरस से सं’बंधित निय’मों के उ’ल्लंघन को लेकर बीते पांच दिनों में 18,500 चा’लान काटे गए हैं और 3.18 क’रोड़ रुपये का जु’र्माना लगाया गया है। आंकड़ों के मु’ताबिक, निय’मों का उल्लंघन करने पर 1.66 करोड़ रुपये का जु’र्माना व’सूला जा चुका है। उसमें बताया गया है कि 25 मार्च को 4018, 26 मार्च को 3877, 27 मार्च 4034, 28 मार्च को 3834 और 29 मार्च को 2758 चालान किए गए।