Categories
Other

लॉकडाउन में CM योगी आदित्यनाथ ने मजदूरों से की ये बड़ी अपील- बोले- ‘सब्र रखिए, सबको….’

कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए पूरे देश में 24 मार्च से 3 अप्रैल तक लॉकडाउन लागू है. ऐसे में पैदल घर वापसी कर रहे प्रवासी मजदूरों से उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि आप लोग धैर्य रखें और पैदल यात्रा नहीं करने की अपील की है. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के प्रवासी श्रमिकों और कामगारों की सुरक्षित वापसी के लिए राज्य सरकार दूसरे राज्यों की सरकारों के संपर्क में है. दूसरे राज्यों से प्रवासी कामगारों और श्रमिकों को वापस उत्तर प्रदेश लाने के लिए प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित की जाएगी.

सीएम योगी ने राज्य की सीमाओं को पूरी तरह से सील करने और सीमावर्ती क्षेत्रों में सतर्कता बरतने का निर्देश दिया है. उन्होंने 10 लाख लोगों के लिए तत्काल क्वारनटीन सेंटर, शेल्टर होम और कम्युनिटी किचन तैयार करने का भी आदेश दिया. सीएम योगी ने कहा कि नोएडा के साथ ही दिल्ली से भी उत्तर प्रदेश के छात्र-छात्राओं और मजदूरों को वापस लाने के लिए वहां की सरकार से सम्पर्क किया जाए.

उन्होंने अतिरिक्त वेंटिलेटर्स की आवश्यकता होने पर पोर्टेबल वेंटिलेटर्स मंगाने, प्रवासी मजदूरों की सुगमता से जांच के लिए सभी जनपदों में इन्फ्रा-रेड थर्मामीटर उपलब्ध कराने, मथुरा स्थित पशु चिकित्सा विज्ञान विश्वविद्यालय और लखनऊ स्थित सी. डी. आर. आई., आई. आई. टी. आर. और बी. एस. आई. पी. की टेस्टिंग क्षमता के उपयोग पर विचार करने को भी कहा है.

सीएम योगी ने कहा कि कोरोना वायरस से प्रभावित आर्थिक गतिविधियों को ध्यान में रखते हुए राजस्व के वैकल्पिक स्रोतों में इजाफा करना होगा. ‘कैश फ्लो’ में वृद्धि के लिए योजना बनाकर कार्रवाई किए जाने की जरूरत है. घर वापसी कर रहे लोगों की सुरक्षा के लिए परिवहन निगम की बसों में सैनिटाइजर डिवाइस स्प्रे मशीन लगाने का फैसला लिया गया है. बसों में एंट्री करते ही स्प्रे मशीन यात्रियों को चंद सेकेंड में सैनिटाइज कर देगी. एक बस में 40 लीटर सैनिटाइजर की व्यवस्था होगी, जिससे 400 यात्री सैनिटाइज किए जा सकेंगे. ये डिवाइस सीधे बस की बैटरी से कनेक्ट रहेगी. इंजन बंद होने पर भी यह डिवाइस काम करती रहेगी. इसका दो बसों में ट्रायल भी किया जा चुका है.