Categories
Other

लॉकडाउन की वजह से अलग-अलग जगह फंसे लोग, ऐसे जा सकते है अपने घर वापस!

पूरी दुनिया में कोरोना वायरस का खतरा बना हुआ हैं. सबसे ताकतवर देश भी इस वायरस का कोई इलाज खोज नहीं पा रहे है. अधिकतर सभी देश लॉकडाउन हो चुके हैं. भारत में भी कोरोना वायरस के मामले दिन पर दिन बढ़ते ही जा रहे है. आपको बता दें कि अब तक भारत में कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 3378 हो चुकी है.

वहीं इस वायरस के कारण 77 लोगों की मौत हो चुकी है. वहीं 266 लोगों ने इस पर जीत हासिल की है. देश में कोरोना वायरस के सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र और केरल में देखने को मिल रहे है. भारत के प्रधानमंत्री ने भी 24 मार्च को, पूरे देश को 21 दिनों के लिए लॉकडाउन करने का आदेश दिया था. जिसके अगले दिन ही पूरा देश लॉकडाउन हो गया. इस लॉकडाउन में लोगो के घर से निकलने पर पूरी तरफ पाबंदी लगा दी गयी है.

आपको बता दें कि लॉकडाउन से सबसे ज्यादा उन लोगो को परेशानी दिहाड़ी मजदूरों को हुई है जो पैसा कमाने के लिए घर से बाहर रहते है और जो लोग 2 वक़्त की रोटी के लिए दिन की कमाई पर निर्भर रहते है. लोगों का कहना है कि उनका घर पर जाना बेहद जरूरी है लेकिन लॉकडाउन की वजह से वो कुछ भी करने में असमर्थ है.

जानकारी के लिए बता दें कि लॉकडाउन की वजह से पब्लिक ट्रांसपोर्ट की सेवाएँ भी बंद कर दी गयी है. ऐसे में अगर आपको अपने घर जाना है तो आप पब्लिक ट्रांसपोर्ट का इस्तेमाल नही कर सकते हो.  लेकिन अगर आपके पास अपना खुद का व्हीकल है तो इन तरीके का इस्तेमाल करके आप अपने घर जा सकते हो!

-अगर घर जाने के लिए आपके पास कोई ठोस कारण है तो इसके लिए आपको परमिशन लेकर एक पास बनवाना होगा|

-परमिशन के लिए आपको जिला कलेक्टर या मजिस्ट्रेट के पास अपनी समस्या बतानी होगी|

-अगर जिला कलेक्टर या मजिस्ट्रेट को आप का कारण महत्वपूर्ण लगता है तो शायद वो आपको घर जाने की परमिशन दे दें. और इसके साथ वो आपको एक पास भी देंगे जो आपको हर जगह चेकिंग ऑफिसर्स को दिखाना होगा।