Categories
Other

गृह मंत्रालय के आदेश के बाद फंसे मजदूरों के लिए इन 6 रूटों पर चल रही हैं श्रमिक स्पेशल ट्रेनें

1 मई यानी की कल केंद्रीय गृह मंत्रालय ने अलग-अलग जगहों पर फंसे मजदूरों, तीर्थयात्रियों और छात्रों के लिए रेल मंत्रालय को स्पेशल ट्रेन चलाने की अनुमति दी थी. इसी को लेकर देश में अलग-अलग हिस्सों में फंसे लोगों को निकालने के लिए रेलवे ने मेगा ऑपरेशन शुरू कर दिया है. लॉकडाउन की वजह से फंसे मजदूरों को लेकर चली छह ट्रेनें अब मंजिल पर पहुंचने लगी हैं.

कल रात तेलंगाना से चली ट्रेन 1200 मजदूरों को लेकर रांची के हटिया पहुंची तो आज सुबह नासिक से चले 400 मजदूर ट्रेन से भोपाल पहुंच गए. रेल मंत्रालय की गाइडलाइन के मुताबिक 6 ट्रेन प्रयोग के तौर पर चलाई गई हैं. जिसमें शामिल हैं…

तेलंगाना से झारखंड के बीच ट्रेन
महाराष्ट्र के नासिक से यूपी के लखनऊ
नासिक से एमपी के भोपाल
राजस्थान के जयपुर से बिहार के पटना
राजस्थान के कोटा से झारखंड के रांची
और केरल के अलूवा से ओडिशा के भुवनेश्वर के बीच ट्रेनें

जानकारी के लिए बता दें कि खास बात ये है कि इन ट्रेनों में सोशल डिस्टेसिंग का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है. ट्रेन की बोगी में 72 की जगह 56 लोगों को ही जगह दी जा रही है.

गृह मंत्रालय के निर्देशों के मुताबिक

ट्रेन एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन के लिए चलेगी और इसके लिए दोनों राज्यों की सरकारों की सहमति होना जरूरी होगी
जिस राज्य से ट्रेन शुरू होगी वहां की सरकार को पहले सभी यात्रियों की स्क्रीनिंग करनी होगी
जिनमें कोरोना के कोई लक्षण नहीं होंगे सिर्फ उन्हें ही ट्रेन में जाने की अनुमति होगी
ट्रेन में कोई भीड़ न हो इसलिए राज्य सरकार ही तय करेगी कि एक बार में कितने लोग ट्रेन में जाएंगे
ट्रेन में जाने के लिए किसी भी यात्री को टिकट नहीं जारी किया जाएगा
ये ट्रेनें बीच में किसी स्टेशन पर नहीं रुकेंगी
गंतव्य स्टेशन पर पहुंचने पर वहां की राज्य सरकार सभी यात्रियों को उनके घरों तक पहुंचाने, उनकी स्क्रीनिंग और क्वॉरंटीन करने की व्यवस्था करेगी।