Categories
Entertainment News

जब पा’किस्ता’न नें क’श्मीर के बदलें मॉग ली माधुरी दीक्षित, और उसकें बाद जो हुया😳😳👇

खबरें

ये तो सब जानते है कि माधुरी दीक्षित बॉलीवुड की सबसे खूबसूरत अभिनेत्रियों में से एक है. जी हां माधुरी दीक्षित न केवल डांस के मामले में परफेक्ट है, बल्कि खूबसूरती के मामले में भी सबसे अलग है. यही वजह है कि लोग आज भी उनका एक दीदार करने के लिए तरसते है. यहाँ तक कि बॉलीवुड के सुपरस्टार रणबीर कपूर खुद माधुरी दीक्षित के बहुत बड़े फैन है. ऐसे में आप खुद उनकी खूबसूरती और अदायगी का अंदाजा लगा सकते है. वैसे आप सोच रहे होंगे कि हम अचानक माधुरी दीक्षित और उनकी खूबसूरती के जलवो की बात क्यों कर रहे है. तो हम आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हम यहाँ माधुरी दीक्षित की खूबसूरती के बारे में बात इसलिए कर रहे है, क्यूकि केवल भारत ही नहीं बल्कि पा’कि’स्ता’न भी माधुरी दीक्षित का काफी बड़ा फैन है.

हालांकि अब माधुरी दीक्षित पचास साल की हो चुकी है और उनका अदाएं अब भी कायम है. मगर एक समय ऐसा भी था, जब पा’कि’स्ता’न माधुरी के जलवो पर जान छिड़कता था. जी हां आपको जान कर ताज्जुब होगा कि पा’कि’स्ता’न पर माधुरी का जादू कुछ इस कदर चला था कि उन्होंने कश्मीर के बदले में माधुरी को ही मांग लिया था. यही वजह है कि आज हर कोई उनकी खूबसूरत अदाओ को स्लैम करता है. गौरतलब है कि तब का’रगि’ल का यु’द्ध चल रहा था और इस दौरान ही पा’किस्ता’न ने क’श्मी’र के बदले में मा’धुरी दी’क्षित को देने की मांग रखी थी. अब जाहिर सी बात है कि हमारा भारत जंग तो लड़ सकता है, लेकिन ऐसे बेशकीमती हीरे को दुश्मन देश के हाथो में कैसे सौंप देता. यक़ीनन आप खुद भी हमारी बात से सहमत होंगे.

वैसे भी हम भारतीय अपने देश के ऐसे नायाब कलाकारों को किसी भी कीमत पर बेच नहीं सकते और न ही उनकी जा’न ख’तरे में डाल सकते है. बता दे कि उस दौरान का’रगि’ल यु’द्ध के कप्तान विक्रम थे. जी हां उन्होंने इस यु’द्ध में खास भूमिका निभाई थी. हालांकि यु’द्ध के दौ’रान वो ल’ड़ते ल’ड़’ते शही’द हो गए थे. मगर कप्तान विक्रम के दोस्तों का ये कहना है कि पा’कि’स्ता’न वालो ने इस बात का ना’रा लगाया था कि आप हमें मा’धुरी दे दीजिये, हम आपको क’श्मीर दे देंगे. अब ऐसे में आप खुद अंदाजा लगा सकते है कि माधुरी दीक्षित केवल हिंदुस्तान में ही नहीं बल्कि पा’किस्ता’न में भी काफी मशहूर है.

हालांकि हमारे देश के सैनिको ने पा’किस्ता’न वालो की एक नहीं सुनी, क्यूकि उन्हें अपनी जा’न गंवाना तो गं’वारा था, लेकिन पा’किस्ता’न वालो की ऐसी बेहु’दा श’र्त मानना बिलकुल भी गं’वारा नहीं था. यही वजह है कि उन्होंने अं’त तक ल’ड़ कर पा’कि’स्तानि’यो को उनके नारे का जवाब दिया. अब भले ही इस जंग में वो श’ही’द हो गए, लेकिन उन्होंने देश की शान पर आंच नहीं आने दी. शायद इसी को सच्चे क’लाका’र की इ’ज्जत करना कहता है.

अब हम तो केवल अपने देश के जवानो को सच्चे मन से स’ला’म ही कर सकते है और दुआ करते है कि माधुरी दीक्षित का जीवन भी ऐसे ही खुशहाल रहे