Categories
Other

दो’षियों को फां’सी अब कब होगी, आज आएंगे इसका फैसला

नि’र्भ’या केस ने देश पूरी तरह से हिलाकर रख दिया था. दिसंबर 2012 को हुए इस घटना के बाद से लोगों ने दिल्ली के राजपथ, जंतर-मंतर, रामलीला मैदान समेत देश के हर हिस्सों में निर्भया के दो’षि’यों को फांसी देने की मांग की जा रही है लेकिन चारों दो’षि’यों की अलग अलग तारीख में दया याचिका दायर करने की वजह से इनकी फां’सी टलती जा रही है.

दिल्ली हाई कोर्ट ‘नि’र्भ’या’ मामले से जुड़ी केंद्र की याचिका पर आज फैसला सुनाने जा रहा है आपको बता दें कि इस याचिका में चा’रों दो’षि’यों की फां’सी पर रोक से जुड़े निचली अदा’लत के आदेश को चुनौती दी गई है. कोर्ट में बीते रविवार को हुई विशेष सुनवाई के तहत इस मुद्दे पर दोनों तरफ की बातें सुनने के बाद अपना फैसला सुरक्षित कर दिया था.

आपको बता दें कि दो’षी मुकेश कुमार सिंह (32), पवन गुप्ता (25), विनय कुमार शर्मा (26) और अक्षय कुमार (31) तिहाड़ जेल में कैद हैं. वहीं मंगलवार को ‘निर्भया’ के माता-पिता ने हाई कोर्ट से अनुरोध किया कि दोषियों की याचिका को जल्द से जल्द निपटारा करें और फैसला सुनाए.

आपको बता दें कि इस सुनवाई के दौरान केंद्र ने दलील दी है कि दो’षि’यों को एक-एक कर फां’सी दे देनी चाहिए. इस तरह की फां’सी में न तो दिल्ली को कोई समस्या है न ति’हाड़ और न ही कोई ऐसा नियम है जिससे फां’सी रोक सके. उन्होंने कहा कि तेलंगाना में लोगों ने रेप के दो’षि’यों के एनका’उंटर का जश्‍न मनाया था. लोगों का ये जश्‍न पुलिस के लिए नहीं था, बल्कि इंसाफ के लिए था. तीन दो’षि’यों पवन, विनय और अक्षय की ओर से एडवोकेट ए पी सिंह ने दलील दी है जिसमें कहा है कि फां’सी पर चढ़ाने के लिए न तो सुप्रीम कोर्ट ने कोई समयसीमा तय की हुई है और न संविधान में इसके लिए कोई अवधि तय है.