Categories
News

अरुण जेटली की पहली पुण्यतिथि पर पीएम मोदी ने यूं किया याद, कहा- मैं दोस्त को काफी याद करता हूं….

खबरें

 पूर्व केंद्रीय मंत्री व बीजेपी के दिवंगत वरिष्ठ नेता अरुण जेटली की पहली पुण्यतिथि है,आज ही के दिन पिछले साल उन्होंने इस दुनिया को अलविदा कहा था, अरुण जेटली की पहली पुण्यतिथि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा सहित कई नेताओं ने श्रद्धांजलि अर्पित की।

पीएम मोदी ने लिखा, आज ही के दिन पिछले साल हमने अरुण जेटली जी को खो दिया था, मुझे अपने दोस्त की बहुत याद आती है, अरुण जी ने लगन से भारत की सेवा की, उनकी बुद्धि, कानूनी कौशल और व्यक्तित्व महान था।

On this day, last year, we lost Shri Arun Jaitley Ji. I miss my friend a lot. 

Arun Ji diligently served India. His wit, intellect, legal acumen and warm personality were legendary. 

Here is what I had said during a prayer meeting in his memory. https://t.co/oTcSeyssRk— Narendra Modi (@narendramodi) August 24, 2020

बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा ने लिखा, प्रखर नेता, विचारक, पद्म भूषण से सम्मानित पूर्व वित्त मंत्री स्व. श्री अरुण जेटली जी की प्रथम पुण्यतिथि पर उन्हें शत् शत् नमन,राष्ट्र निर्माण में उनकी जनकल्याणकारी नीतियों एवं योजनाओं का अप्रतिम योगदान सदैव याद किया जाएगा।

प्रखर नेता, विचारक, पद्म भूषण से सम्मानित पूर्व वित्त मंत्री स्व. श्री अरुण जेटली जी की प्रथम पुण्यतिथि पर उन्हें शत् शत् नमन। राष्ट्र निर्माण में उनकी जनकल्याणकारी नीतियों एवं योजनाओं का अप्रतिम योगदान सदैव याद किया जाएगा। pic.twitter.com/mYkrxfJVA5— Jagat Prakash Nadda (@JPNadda) August 24, 2020

केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने अरुण जेटली को याद करते हुए कहा कि वह एक उत्कृष्ट राजनीतिज्ञ, विपुल वक्ता और एक महान इंसान थे, जिनकी जगह भारतीय राजनीति में कोई नहीं ले सकता है, अमित शाह ने कहा कि अरुण जेटली बहुआयामी प्रतिभा के धनी थे और वे दोस्तों के दोस्त थे, जो हमेशा अपनी विशाल विरासत, परिवर्तनकारी दृष्टि और देश भक्ति के लिए याद किए जाएंगे।

Remembering Arun Jaitley ji, an outstanding politician, prolific orator and a great human being who had no parallels in Indian polity. He was multifaceted and a friend of friends, who will always be remembered for his towering legacy, transformative vision and devotion to nation.— Amit Shah (@AmitShah) August 24, 2020

गौरतलब है कि पिछले साल 24 अगस्त को ही दिल्ली के एम्स में अरुण जेटली का निधन हो गया था। अरुण जेटली बीजेपी के दिग्गज नेताओं में शुमार रहे हैं, 28 दिसंबर 1952 में जन्मे अरुण जेटली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन के शासन में कई बड़े पद पर आसीन थे, मोदी सरकार के पहले कार्यकाल में अरुण जेटली वित्त मंत्री के पद पर थे, सेहत खराब होने के कारण उन्होंने दूसरे कार्यकाल में किसी भी पदभार संभालने से मना कर दिया था देश की राजनीति को दिशा देने में उनके योगदान को कभी भुलाया नहीं जा सकता।