Categories
Other

जानिए पासबुक पर लगी इस मुहर का क्या है मतलब

पंजाब नेशनल एंड को-ऑपरेटिव PMC में हुए बैंक घोटाले ने कई लोगों को बड़े सदमे में पहुंचा दिया है. 4500 करोड़ रूपये से भी ज्यादा के हुए घोटाले से कई खाताधारकों को बड़ा झटका लग गया है. PMC में हुए इस बड़े घोटाले के बाद बाकी की सभी प्राइवेट बैंक भी सतर्क हो गये हैं और ग्राहकों की पासबुक पर एक जानकारी की मुहर लगाकर दे रही है.

जानकारी के लिए बता दें अभी हाल ही में बैंक की पासबुक पर मुहर लगी हुई एक तस्वीर जमकर वायरल हो रही थी. अब इस मुहर की की क्या सच्चाई वो हम आपको बताने जा रहे हैं. दरअसल अब प्राइवेट बैंक HDFC ने खाताधारकों की पासबुक पर डीआईजीसी के नियम का हवाला देते हुए एक लाख से ज्यादा रकम की जिम्मेदारी लेने से मना कर दिया है.

सबसे पहले HDFC बैंक ने इस पहल की शुरुआत की है. डीजीआईसीजी का मतलब ये है कि खाताधारकों द्वारा जमा की गयी डीजीआईसीजी के पास बीमाकृत है. अगर किन्ही कारणों के चलते बैंक का लिक्विडेशन होता है तो डीजीआईसीजी खाताधारकों के 1 लाख रूपये देने का जिम्मेदार है.

वहीँ पीएमसी के दिवालिया घोषित होने से खाताधारक अपने पैसे निकालने के लिए जगह-जगह घूम रहे हैं. बीच में एक समय तो ऐसा आया कि PMC के खाताधारकों को बैंक से बस एक हजार रूपये से ज्यादा की राशि निकालने पर रोक लगा दी थी.

One reply on “जानिए पासबुक पर लगी इस मुहर का क्या है मतलब”

Leave a Reply

Your email address will not be published.