Categories
News

गॉव की मुखिया को लगा प्रेम रोग, अब न रही ससुराल की न ही……..

स्थानीय

बाड़मेर।  पांच दिनों तक मायके और ससुराल के लिए सिरदर्द बनीं समदड़ी पंचायत की मुखिया पिंकी चौधरी आखिरकार अपने मायके के गांव लौट आईं। वे अचानक ससुराल से गायब हो गई थीं। 2 बच्चों की मां पिंकी चौधरी गांव तो लौटीं, लेकिन अपने ससुराल या मायके नहीं गईं। बल्कि मायके के गांव में रहने वाले अपने प्रेमी अशोक चौधरी के साथ रहने लगी हैं। पिंकी चौधरी प्रेमी के साथ ही घर से फरार हुई थीं। शुक्रवार को उनके लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई थी।

मुखिया के गायब होने से हड़कंप मच गया था। गांव लौटने पर मुखिया ने ऐलान किया कि वे न ससुराल जाएंगी और न मायके। वे लिव इन रिलेशनशिप में हैं। पिछले दिनों एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें कहा जा रहा था कि पिंकी चौधरी ने अशोक से शादी कर ली है। मुखिया ने वीडियो को गलत बताया। उन्होंने शादी से इनकार किया। मुखिया ने कहा कि अब वे अपनी बात कोर्ट में रखेंगी।
बाड़मेर के एसपी आनंद शर्मा ने बताया कि पिंकी चौधरी दो बच्चों की मां हैं। वे ससुराल से पीकर जाने का कहकर निकली थीं। लेकिन जब वे मायके नहीं पहुंची, तो परिजनों को चिंता हुई। तब समदड़ी थाने में उनके लापता होने की रिपोर्ट दर्ज कराई गई। पिंकी अपनी मर्जी से घर से गायब हुई थीं। उनके साथ बेटा भी था। पिंकी चौधरी ने पुलिस को दिए अपने बयान में कहा कि जब तक उनका तलाक नहीं होता, वे अपने प्रेमी अशोक चौधरी के संग लिव इन रिलेशनशिप में रहेंगी।

उल्लेखनीय है कि पिंकी चौधरी 5 साल पहले गांव की प्रधान चुनी गई थीं। अभी समिति के चुनाव स्थगित होने से नया प्रधान नहीं चुना गया है। इसलिए वे ही प्रधान हैं। पिंकी चौधरी ने गुमशुदगी रिपोर्ट में उनके बारे में लिखवाई गईं बातों का खंडन किया।
उन्होंने कहा कि उनके ससुर के ऊपर दबाव था। इसी वजह से उनके पिता ने रिपोर्ट में कई मनगढ़ंत बातें लिखवाई थीं। गायब होने के बाद पिंकी ने बाड़मेर पुलिस एसपी को एक मेल किया था। इसमें उन्होंने अपने ससुर और पति पर प्रताड़ना का आरोप लगाया था। पिंकी ने मीडिया को बताया कि घर से जाने के बाद वे जोधपुर में रहीं। उनका बेटा साथ था।

बता दें कि पिंकी चौधरी का मायका समदड़ी से सिर्फ 15 किमी दूर है। वे 7 साल के बेटे को लेकर मायके जाने की बात कहकर ससुराल से निकली थीं। पिंकी के ससुर भाजपा नेता हैं। समदड़ी सीट ओबीसी महिला के लिए आरक्षित होने पर उन्होंने पिंकी को चुनाव लड़वाया था। हालांकि पिंकी चौधरी के गायब होने के बाद से ही उनके प्रेम प्रसंग की चर्चा शुरू हो गई थी। पिंकी चौधरी के लौटने के बाद बात साफ हो गई कि पिंकी चौधरी प्रेम में ही घर से भागी थीं।