Categories
Entertainment News

दाऊद पर कबूलनामे से पलटा पाक, बोला- हमारे यहां नहीं है मोस्ट वांटेड डॉन..

हिंदी खबर

पाकिस्तान ने दाऊद इब्राहिम को लेकर किए गए अपने कबूलनामे से पलटी मारते हुए कहा है कि डी कंपनी का सरगना उसके देश में नहीं है। शनिवार शाम को पाकिस्तान ने दाऊद इब्राहिम समेत 88 प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों और उनके आकाओं पर कार्रवाई करने का ढोंग किया था।

इस्लामाबाद
पाकिस्तान ने दाऊद इब्राहिम को लेकर किए गए अपने कबूलनामे से पलटी मारते हुए कहा है कि डी कंपनी का सरगना उसके देश में नहीं है। शनिवार शाम को पाकिस्तान ने दाऊद इब्राहिम समेत 88 प्रतिबंधित आतंकवादी संगठनों और उनके आकाओं पर कार्रवाई करने का ढोंग किया था। इस लिस्ट में अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम का नाम शामिल कर पाकिस्तान ने स्वीकार किया था कि यह मोस्ट वांडेट आतंकी उसके देश में रह रहा है।

दाऊद पाकिस्तान में नहीं: पाक विदेश मंत्रालय
पाकिस्तानी विदेश मंत्रालय ने एक बयान जारी कर कहा कि भारतीय मीडिया में दावा किया जा रहा है कि पाकिस्तान ने अपनी जमीन पर कुछ सूचीबद्ध व्यक्तियों (दाऊद इब्राहिम) की उपस्थिति को स्वीकार किया है। यह दावा निराधार और भ्रामक है। इसके अलावा उसने इस बात को भी खारिज कर दिया कि पाकिस्तान इन लोगों पर नए प्रतिबंध लगा रहा है।

पाकिस्तानी समाचार पत्र ‘द न्यूज’ की खबर के अनुसार पाकिस्तान सरकार ने हाल ही में संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (UNSC) द्वारा जारी नई सूची के अनुपालन में आतंकवादी समूहों के 88 आकाओं और सदस्यों पर प्रतिबंध लगाए हैं। अधिसूचनाओं में घोषित प्रतिबंध जमात-उद-दावा, जैश-ए-मोहम्मद, तालिबान, दाएश, हक्कानी समूह, अलकायदा और अन्य पर लगाए गए हैं।

खबर के अनुसार सरकार ने इन संगठनों और आकाओं की सभी चल और अचल संपत्तियों को जब्त करने और उनके बैंक खातों को सील करने के आदेश दिए है। सईद, अजहर, मुल्ला फजलुल्ला (उर्फ मुल्ला रेडियो), जकीउर रहमान लखवी, मुहम्मद यह्या मुजाहिद, अब्दुल हकीम मुराद, नूर वली महसूद, उजबेकिस्तान लिबरेशन मूवमेंट के फजल रहीम शाह, तालिबान नेताओं जलालुद्दीन हक्कानी, खलील अहमद हक्कानी, यह्या हक्कानी और इब्राहिम और उनके सहयोगी सूची में हैं।