Categories
Other

महाराष्ट्र में लॉ’कडाउ’न के बीच यूपी में जारी हुई गाइ’डलाइन, जान ले अभी नही तो….

खबरें

महाराष्ट्र, केरल व मध्य प्रदेश सहित पांच राज्यों में दोबारा को’रोना संक्र’मण ते’जी से फैलने के बाद यूपी भी अ’ल’र्ट हो गया है। यहां दोबारा को’रो’ना संक्र’म’ण बढ़ने से रो’कने के लिए फिर से स’ख्ती होगी। स्वास्थ्य विभाग के अप’र मुख्य सचिव अमित मोहन प्रसाद ने को’रो’ना को लेकर ढि’ला’ई बिल्कुल भी न ब’र’तने की हिदा’यत दी है।

अपर मुख्य स’चिव ने कहा कि जैसे मार्च 2020 में सं’क्र’मण फै’लने पर ब’चाव के उपा’य और स’ख्ती की जा रही थी, वैसे ही क’ठोर क’दम फिर से उठाए जाएं। दूसरे राज्यों से आ रहे लोगों को 14 दिन क्वारं’टाइ’न करने के नियम का स’ख्ती से पाल’न कराया जाएगा। मो’हल्ला व ग्राम निग’रानी कमे’टियों को फिर से अ’लर्ट कर दिया गया है। वह बाहर से आने वालों की रि’पोर्ट स्वा’स्थ्य विभाग को देंगे। स्वा’स्थ्य विभा’ग पहले ही प्रदेश में प्रति’दिन को’रो’ना संक्र’मित मिल रहे म’रीजों में से 10 फीसद के सैं’पल जी’नोम सी’क्वें’सिं’ग के लिए भेजने का फै’सला कर चुका है। नए स्ट्रे’न का पता लगाने के लिए सैं’पल राजधानी स्थित किं’ग जा’र्ज मेडि’कल यूनि’वर्सि’टी (के’जी’एमयू) भेजे जाएंगे। के’जी’एम’यू की मा’इक्रोबॉ’योलॉ’जी लैब इसके लिए तैयारी कर चुकी है। वहीं जरूरत पड़ने पर इंस्टी’ट्यूट ऑफ जी’नोमि’क्स एंड इंटीग्रेटिव बॉ’योलॉजी (आ’इजी’आ’इबी) को जीनो’म सी’क्वें’सिंग के लिए सैं’पल भे’जे जाएंगे। मा’स्क लगाने के लिए लो’गों को जाग’रूक करने के साथ स’ख्ती भी बर’ती जाएगी।

टे’स्टिंग और कां’टेक्ट ट्रे’सिंग पर फो’कस: स्वास्थ्य वि’भाग के अपर मुख्य सचि’व अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि टे’स्टिं’ग व कां’टे’क्ट ट्रेसिं’ग पर लगातार जोर दिया जा रहा है और अधि’कतम 1.3 लाख टेस्ट रोज किए जा रहे हैं। उन्होंने बताया कि जरूरत पड़ने पर इसे बढ़ा’या जाएगा। प्रदेश में अब तक तीन करोड़ लोगों का को’रो’ना टे’स्ट और 15.3 करोड़ लोगों की स्क्री’निंग की जा चुकी है।

अस्पताल भी हुए स’तर्क, लेवल वन होंगे शुरू: को’रो’ना सं”क्र’मण के ल’गातार घटने के कारण प्रदेश में लेवल वन के अस्प’ताल बंद कर दिए गए थे। अब लेव’ल टू व लेवल थ्री के अस्पतालों में ही करीब 18 हजार बेड हैं। पहले सितंबर 2020 में सर्वाधिक 68,235 के’स होने पर लेवल वन से लेकर लेवल थ्री तक के अस्प’तालों में 1.5 लाख बेड की व्यव’स्था की गई थी। हलांकि ए’क्टिव केस अब केवल 2190 हैं, लेकिन फिर भी जरूरत के अनुसार को’रो’ना के कम गंभी’र म’री’जों के लिए सी’मित दाय’रे में लेवल वन की सुविधा शुरू होगी।