Categories
News

देश मे टूट गए को’रो’ना के सभी रिकॉर्ड, एक दिन में 2 लाख नए के’स, अब लगेगा लॉ’कडा’उन!! अभी अभी मोदी सरकार ने जारी किया……

खबरें

24 घंटे में को’रो’ना के’सों की संख्या करीब 2 लाख तक पहुंचने के बाद लोग एक बार फिर आशं’कित हैं कि क्या देश एक बार फिर लॉ’कडाउ’न की ओर बढ़ रहा है? क्या सं’क्र’म’ण रोकने का यही एक उपाय बचा है? इस बीच वित्त मंत्री निर्मला सी’तारमण ने वर्ल्ड बैंक को बताया है कि मोदी सरकार पिछले साल की तरह संपूर्ण लॉ’कडाउ’न पर विचार नहीं कर रही है और इस बार लो’कल कं’टेनमें’ट जोन में ही पा’बंदि’यां लगाई जा रही हैं।

वर्ल्ड बैं’क ग्रुप प्रेजि’डें’ट डे’वि’ड मालपास के साथ मंगलवार को एक वर्चु’अ’ल मीटिंग के दौ’रान सीतारमण ने कहा कि इस समय पूरे देश में संपूर्ण लॉ’कडा’उन की कोई गुंजाइश नहीं है। बुधवार को देश में 1.84 लाख लोग को’रो’ना से सं’क्र’मित पाए गए तो एक हजार से अधिक लोगों की मौ’त हो गई। सबसे अधिक के’स वाले राज्य महाराष्ट्र में आज रात से 15 दिनों के लिए लॉ’कडाउ’न जैसी पा’बं’दि’यों की घो’षणा की गई है।

वित्त मंत्रालय ने ट्वीट किया, ”वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने को’रो’ना म’हामा’री की दूसरी लह’र को रोकने के लिए भारत की ओर से उठाए जा रहे कदमों को साझा किया, जिनमें टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, वै’क्सी’ने’शन और को’वि’ड अ’प्रो’प्रि’एट बि’हेवि’यर शामिल है।”

सीतारमण ने कहा, ”दूसरी लहर के बावजूद, हम बहुत स्पष्ट हैं कि बड़े पैमाने पर लॉ’कडाउ’न नहीं करने जा रहे हैं। हम पूरी तरह इ’कॉनमी को कै’द नहीं करना चाहते। म’री’जों या क्वा’रं’टाइ’न वाले घरों को स्थानीय स्तर पर आ’इ’सो’लेट करके सं’कट से निपटा जाएगा। लॉ’कडाउ’न नहीं होने जा रहा है।”

वर्ल्ड बैंक के बयान के मुताबिक, मालपास और वित्त मंत्री ने ग्रुप और भारत के बाच पार्टनरशिप के महत्व पर चर्चा की, जिनमें सिविल सर्विस और फाइनेंशल सेक्टर रिफॉर्म, वाटर रिसोर्स मैनेजमेंट और हेल्थ शामिल हैं। उन्होंने भारत के को’विड-19 से नि’प’ट’ने के उपाय और वै’क्सी’न उत्पादन क्षमता पर भी बात की।