Categories
Other

अगर आप भी करते है ऑनलाइन पेमेंट तो ये खबर है आपके लिए बेहद जरूर

महाराष्ट्र के ठाणे में एक व्यक्ति से पेटीएम और गूगल पे के जरिए ऑनलाइन ठगी का मामला सामने आया है. पुलिस ने ये जानकारी दी थी कि पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि पाटलीपाड़ा के रहने वाले व्यक्ति ने अपना फर्नीचर बेचने के लिए फेसबुक पर बीते 21 दिसंबर को विज्ञापन दिया था.

जिसके बाद 24 दिसंबर को उन्हें किसी राजेंद्र शर्मा नाम के शख्स की तरफ से कॉल आया था कि वे लोग ये फर्नीचर खरीदना चाहते हैं. जिसके बाद आरोपी ने पेटीएम और गूगल पे के जरिए भुगतान करने की बात कही थी.

वहीं राजेंद्र शर्मा ने भुगतान खाते में पैसे आने के बदले एक लाख रुपए उनके ही खाते से निकल गए. जिसके बाद इस संबंध में अज्ञात व्यक्ति के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है और फिलहाल पुलिस इस मामले की जांच कर रही है.

वहीं ऐसा ही एक मामला मुंबई पुलिस के सामने भी आया है जहां राइस पुलर के नाम पर पुलिस ने करोड़ों की ठगी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है. साधारण लोटे को दुर्लभ लोटा बताकर एक करोड़ 54 लाख रुपये ऐंठने वाला गिरोह कई लोगों को ठग चुका है. तांबे के सामान्य लोटे को शातिर ठगों ने दुर्लभ लोटा बताकर एक व्यक्ति से एक करोड़ 54 लाख रुपये ठग लिए. पुलिस के मुताबिक इसके लिए शातिर ठग तीन अलग-अलग कंपनियां बनाए थे और डीआरडीओ के वैज्ञानिकों के नाम का झांसा भी देते थे. मुंबई क्राइम ब्रांच के डीसीपी अकबर पठान ने बताया कि इस मामले में तीन लोगों को पकड़ा गया है. उनके पास से फर्जी दस्तावेज भी बरामद हुए हैं.

गिरोह के लोग अपने शिकार की पहचानकर उसे लोटे में रेडिएशन होने की बात कहकर उसे बेचने पर देशी और विदेशी अंतरिक्ष एजेंसियों से करोड़ों रुपये मिलने का लालच देते थे. वे पहले उसे BARC और DRDO से टेस्ट कराने के लिए 40 से 50 लाख रुपये खर्च आने की बात कहकर शिकार को निवेश के लिए राजी कर लेते थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.