Categories
News

शादी के बाद 2 बहनों का जबरन कराया व’र्जि’नि’टी टेस्ट, फिर पंचायत ने सुनाया फरमान…

खबरें

महाराष्ट्र के को’ल्हापुर में एक चौंकाने वाला मा’मला सामने आया है, यहां दो बहनों का शादी के बाद जबरन व’र्जि’नि’टी टेस्ट कराया गया, दोनों महिलाओं की शि’का’य’त है कि व’र्जि’नि’टी टेस्ट के बाद उनके पति ने उन्हें छोड़ दिया, जाट पंचायत ने उन्हें तला’क देने का फै’स’ला सुना दिया, फिलहाल इस मा’मले में पु’लिस ने एक्शन लेते हुए दोनों पतियों, सास और पंचायत के कुछ लोगों के खिला’फ के’स दर्ज किया है।

क्या है मा’मला
इस मा’मले में गुरुवार शाम को एक ए’फ’आ’ईआ’र द’र्ज करायी गई थी, दोनों बहनों द्वारा दायर की गई शि’का’यत के अनुसार वो कोल्हापुर के कं’जड़भाट स’मुदाय से आती हैं, उन्हें समुदाय से ही दो भाइयों से विवाह के प्रस्ताव मिले थे, जहां एक भाई सेना में कार्यरत है, तो दूसरे भाई की प्राइवेट नौकरी थी, शिका’यत में कहा गया है कि दोनों बहनों की 27 नवंबर 2020 को शादी हुई, इसके बाद परंपरा के तहत उन्हें अलग-अलग बेडरुम ले जाया गया, जहां पतियों ने उनका व’र्जि’नि’टी टेस्ट किया।

गैर म’र्द से सं’बं’ध का आ’रोप
अपने ब’यान में पी’ड़िता ने कहा, कि उसके पति ने उस पर पहले दूसरे गैर म’र्दों से संबंध रखने का आ’रोप लगाया, जबकि दूसरी बहन व’र्जि’नि’टी टेस्ट में पास रही, 29 नवंबर को शि’का’यतक’र्ताओं के पति और उनके ससु’रालवालों ने घर बनवाने के नाम पर उनसे 10 लाख रुपये मांगे और ध’मकी दी, कि वो दोनों बहनों के साथ कोई रिश्ता नहीं रखेंगे, महिलाओं की शि’का’यत है कि इस दौ’रान उनके पतियों और ससुरालवालों ने उनसे मा’रपी’ट भी की, बाद में उन्हें ज’बरदस्ती घर छोड़कर अपने मा’यके जाने पर मजबूर कर दिया।

पंचायत में शि’कायत
बताया गया कि इसके बाद दोनों बहनों की मां ने जाट पंचायत में शि’का’यत दर्ज कराई, यहां मा’म’ले को सुलझाने के लिये उनसे 40 हजार रुपये भी ले लिये गये, फरवरी 2021 में जब एक मंदिर में पंचायत बिठाई गई, तो वहां पंचायत के सदस्यों ने दोनों बहनों के खि’ला’फ फै’सला सुनाते हुए शादी ख’त्म करने का फ’रमान दिया, शि’कायत करने वाली महिला का आ’रोप है कि समुदाय ने उसका सा’माजिक ब’हिष्का’र भी कर दिया। इस घ’ट’ना के बाद पी’ड़ि’ताओ की मां ने महाराष्ट्र अं’धश्रद्धा नि’र्मूलन समिति के पास मदद के लिये पहुंची, जहां लोगों ने इन दोनों बहनों को पु’लिस के पास पहुंचाने में मदद की और शि’कायत द’र्ज कराई, फि’लहाल इस मा’मले में जां’च जारी है।