Categories
News

Petrol-Diesel के बढ़ जाएंगे इतने दाम जितना आपने सोचा भी न होगा, पढ़ ले जरूरी खबर…

खबरें

बंगाल विधानसभा चुनाव के बाद पेट्रोल-डीजल की कीमतों में 2 से 3 रुपए का इजाफा हो सकता है। सूत्रों के अनुसार कच्चे तेल के दाम बढऩे से तेल कंपनियों का घाटा हो रहा है। इसके चलते विधानसभा चुनाव के बाद इनके दाम बढ़ सकते है। 2 मई को बंगाल विधानसभा चुनाव खत्म होंगे। ज्यादातर देखा जाता है कि सरकार जनता को लुभाने के लिए चुनाव के दौरान पेट्रोल-डीजल के दाम नहीं बढ़ाती है।

इस साल 26 बार बढ़ी फ्यूल की कीमतें और 4 बार कम हुईं 

इस साल पेट्रोल-डीजल के दाम जनवरी में 10 बार और फरवरी में 16 बार बढ़े, जबकि मार्च में कीमतें स्थिर हैं। इस लिहाज से 2021 में अब तक पेट्रोल-डीजल के दाम 26 बार बढ़ चुके हैं। हालांकि मार्च महीने में 3 बार और अप्रैल में 1 बार पेट्रोल-डीजल के दाम में कमी आई है।

चुनावी दांव और पेट्रोल-डीजल के भाव 

2020 में 28 अटूबर से 7 नवंबर के दौरान बिहार विधानसभा के चुनाव हुए और 10 नवंबर को नतीजे आए। इस दौरान 2 सितंबर से 19 नवंबर के बीच पेट्रोल-डीजल के स्थिर रहे। फिर 20 नवंबर से 7 दिसंबर तक 15 बार दाम बढ़े थे। यानी तेल कंंपनियों ने सिर्फ 18 दिन में 15 बार दाम बढ़ाए।