Categories
Other

कौन हैं राष्ट्रपति पुतिन की बेटी जिन्हें कोरोना वैक्सीन दी गई, जानिए क्या करती हैं?

देश में बुधवार को एक दिन में कोरोना से स्वस्थ होने वालों की सबसे बड़ी संख्या दर्ज हुई. केंद्र सरकार के आंकड़ों के मुताबिक 56,383 लोगों ने बुधवार को कोरोना को मात दी. आंकड़ों के मुताबिक देश में कोरोना से औसत रिकवरी दर 70 फीसदी से ज्यादा हो गई है. इसके साथ ही देशभर में एक दिन में सबसे ज्यादा 7 लाख 33 हजार 449 टेस्ट किए गए. आइये आपको बताते हैं राष्ट्रपति पुतिन की बेटी के बारे में जिन्हें कोरोना वैक्सीन दी गई. पुतिन ने 1983 में ल्यूडमीला पुतिना से शादी की थी। मारिया और येकातेरीना को ल्यूडमीला की बेटियां ही बताया जाता है। साल 2013 या 2014 में दोनों अलग हो गए। ल्यूडमीला लाइमलाइट से दूर ही रहती हैं। हालांकि, रूस की प्रथम महिला के तौर पर उन्होंने कई विदेश दौरे किए हैं। वो साल 2004 में राष्ट्रपति पुतिन के साथ भारत दौरे पर भी आई थीं। दोनों ताजमहल देखने भी गए थे। 

व्लादिमीर पुतिन की दो बेटियां हैं, लेकिन किस बेटी को ये वैक्सीन दी गई है, इसकी जानकारी नहीं दी गई है। पुतिन हमेशा से अपनी निजी जिंदगी को चर्चाओं से दूर रखते आए हैं। उनके परिवार के सदस्यों की झलक कम ही देखने को मिलती है। कई मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि पुतिन की दो बेटियां हैं- मारिया पुतिना और येकातेरीना पुतिना। पुतिन ने कभी भी सार्वजनिक तौर पर अपनी बेटियों का जिक्र नहीं किया है, लेकिन कहा जाता है कि येकातेरीना पुतिना उनकी छोटी बेटी हैं। साल 2015 में येकातेरीना पुतिना तब सुर्खियों में आई थीं, जब पता चला कि वो मॉस्को में ही कैटरीना तिखोनोवा के नाम से रह रही हैं। वह एक एक्रोबैटिक डांसर हैं और कई चैम्पियनशिप में हिस्सा लेती रहती हैं। वह एक टीवी शो में भी नजर आ चुकी हैं। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, 33 साल की कैटरीना तिखोनोवा को मॉस्को स्टेट यूनिवर्सिटी में एक नए आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस इंस्टीट्यूट का प्रमुख नियुक्त किया गया था। वह कई सालों से यूनिवर्सिटी में वरिष्ठ पद पर हैं। उन्होंने फिजिक्स और मैथ्स में मास्टर किया है। 

येकातेरीना ने अपने पिता का उपनाम छोड़कर बाद में अपना नाम कैटरीना तिखोनोवा रख लिया। येकातेरीना ने कीरिल शामालोव से 2013 में शादी की थी। कीरिल शामालोव रोजिया बैंक में सह-स्वामित्व रखने वाले निकोलाय शामालोव के बेटे हैं। बताया जाता है कि निकोलाय शामालोव व्लादिमीर पुतिन के पुराने दोस्त हैं। कीरिल शामालोव तेल और पेट्रोकेमिक्लस उद्योग से जुड़े बड़े कारोबारी हैं। वह रूस की सरकार में आर्थिक सलाहकार भी रह चुके हैं। हालांकि, साल 2018 में दोनों अलग हो गए। मारिया पुतिना को पुतिन की बड़ी बेटी बताया जाता है। उन्हें मारिया वोरन्तसोवा के नाम से भी जाना जाता है। रॉयटर्स के एक लेख के मुताबिक, एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में पुतिन से वोरन्तसोवा और येकातेरीना के कारोबार के संदर्भ में उनसे सवाल पूछा गया था। इस पर पुतिन ने किसी का भी नाम लिए बिना कहा था, ‘आपने कारोबार से जुड़ा सवाल किया और दो महिलाओं का नाम लिया। आपने कुछ तथ्य रखे जो काफी नहीं हैं। इस बारे में थोड़ी और जानकारी प्राप्त करें तो आपको पता चल जाएगा कि उनका क्या कारोबार है और कौन किसका मालिक है।’ 

मारिया वोरन्तसोवा एंडोक्राइनोलॉजिस्ट हैं। उनका जन्म रूस के लेनिनग्राद में हुआ था। बीबीसी पर पत्रिका न्यू टाइम्स की एक रिपोर्ट के हवाले से लिखा गया है कि मारिया वोरन्तसोवा मॉस्को के एक रिहायशी अपार्टमेंट में फर्जी नाम से रह रही हैं। यह भी कहा गया है कि वह एक वैज्ञानिक के तौर पर इंडोक्राइनोलॉजी सेंटर में काम करती हैं। इससे पहले एक रिपोर्ट आई थी कि उन्होंने एक डच व्यक्ति से शादी कर ली और यह भी कहा गया कि उन्होंने एक बेटी को जन्म दिया है। सोशल मीडिया की खबरों के आधार पर द न्यू टाइम्स ने कहा था कि मारिया एक महानगरीय जिंदगी जीती हैं, विदेशों का दौरा करती हैं और उनके बहुत सारे यूरोपीय दोस्त हैं। हालांकि, पुतिन ने राष्ट्रपति चुनाव से पहले एक टीवी शो के दौरान अपने बेटियों और उनके बच्चों के बारे में थोड़ी बहुत बात की थी। न्यूज एजेंसी रॉयटर्स के मुताबिक, उन्होंने अपने परिवार की निजता बनाए रखने की अपील की थी। उन्होंने कहा था कि उन्हें डर है कि कहीं उनकी बेटियों के बच्चे सामान्य बचपन ना जी पाएं। वो चाहते हैं कि बच्चे सामान्य लोगों की तरह रहें। पुतिन ने अपनी बेटियों के बारे में बताया था कि वो दोनों मॉस्को में रहती हैं और विज्ञान व शिक्षा के क्षेत्र से जुड़ी हैं। वो राजनीति में किसी भी तरह का दखल नहीं देतीं।