Categories
Other

कोरोना से बिगड़ी अर्थव्यवस्था को पटरी पर लाने के लिए IMF की टीम में शामिल हुए रघुराम राजन

देश में कोरोना वायरस के मामलों दिन पर दिन बढ़ते ही जा रहे है. आपको बता दें कि अब तक मरीजों की संख्या 6 हजार के पार पहुंच चुकी है. केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक अब तक देश में इसके 7447 केस सामने आ चुके हैं. वहीं 239 लोगों की इससे मौत हो चुकी है. साथ ही आपको बता दें कि 504 लोग इलाज के बाद रिकवर भी हो चुके हैं.

जानकारी के लिए बता दें कि कोरोना के प्रकोप के कारण भारत के साथ साथ पूरी दुनिया की इकोनॉमी पस्त हो गई है. इस हालात से बाहर निकलने के लिए अंतरराष्ट्रीय मुद्राकोष (IMF) ने बाहरी सलाहकार के एक समूह का गठन किया है. बताते चलें कि इस समूह में भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन को भी शामिल किया गया है.

आपको बता दें कि रघुराम राजन तीन साल के लिए भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर रह चुके हैं. वर्तमान में वो शिकागो विश्वविद्यालय में प्रोफेसर के तौर पर काम कर रहे हैं. जानकारी के लिए बताते चलें कि सितंबर 2016 में रघुराम राजन का कार्यकाल आरबीआई गवर्नर के तौर पर खत्म हुआ था. जिसके बाद उर्जित पटेल को केंद्रीय बैंक की कमान मिली. ये भी जानना आवश्यक है कि उर्जित पटेल के कार्यकाल में ही नोटबंदी का फैसला लिया गया था।