Categories
Other

लॉकडाउन बढ़ने के बाद अब रेलवे ने भी लिया बड़ा फैसला, इतनी तारीक तक नहीं चलेंगी पैसेंजर ट्रेनें

21 दिनों के लॉकडाउन ख़त्म हेने के आखिरी दिन पीएम मोदी ने देश को संबोधित करते हुए ऐलान किया कि लॉकडाउन 3 मई तक लागू रहेगा. उन्होंने कहा कि भारत ने सभी समय पर लॉकडाउन का ऐलान किया जिस कारण भारत की स्थिति कई दुसरे देशों के मुकाबले काफी बेहतर है. लेकिन लड़ाई अभी ख़त्म नहीं हुई है. अभी और सतर्क रहने की जरूरत है इसलिए लॉकडाउन को 3 मई तक बढ़ाया जा रहा है.

पीएम नरेंद्र मोदी के इस फैसले के बाद रेलवे ने भी बड़ा फैसला लेते हुए 3 मई तक अपनी यात्री ट्रेनें रद कर दी हैं. रेलवे अधिकारियों ने इसकी जानकारी देते हुए कहा कि हमने 3 मई तक अपनी यात्री रेल सेवा बंद रखने का फैसला किया है. इससे पहले 21 दिनों के लॉकडाउन के तहत रेलवे ने अपनी यात्री ट्रेनें 14 अप्रैल तक रद कर दी थी.

रेल अधिकारी ने कहा कि हमने लॉकडाउन के आगे बढ़ने को ध्यान में रखते हुए ये फैसला लिया है. रेलवे ने साथ ही कहा कि इसको लेकर अधिक जानकारी जल्द ही उपलब्ध होगी. रेल मंत्रालय की ओर से दी गई जानकारी मे बताया गया है कि प्रीमियम ट्रेनों, मेल/एक्सप्रेस ट्रेनों, पैसेंजर ट्रेनों, उपनगरीय ट्रेनों, कोलकाता मेट्रो रेल, कोंकण रेलवे सहित भारतीय रेल पर सभी यात्री ट्रेन सेवाएं 3 मई की रात 12 बजे तक निलंबित कर दिया गया है.

देश में फिलहाल हवाई सेवाएं भी 30 अप्रैल तक बंद हैं। रेलवे की ओर से 3 मई तक यात्री ट्रेनें रद करने के फैसले के बाद अब हो सकता है हवाई सेवाओं को भी 3 मई तक रद करने पर कोई फैसला लिया जाए। हालांकि इसको लेकर अभी तक कोई आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है.

इससे पहले आज देश को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश में लॉकडाउन कोरोना वायरस महामारी के प्रसार को रोकने के लिए बहुत आवश्यक है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे कहा कि कोरोना वायरस के खिलाफ भारत की लड़ाई बहुत मजबूती से आगे बढ़ रही है और देशवासियों के बलिदान के कारण देश को काफी कम नुकसान हुआ है।