Categories
Other

इस स्कूल में छात्राएं जोर-जोर से चीखने के बाद हो जाती हैं बेहोश, जानिए क्‍या है वजह

मध्य प्रदेश के शहडोल जिला मुख्यालय से 105 किलोमीटर दूर स्थित अनहरा गांव के प्राथमिक और माध्यमिक स्कूल में पढ़ने वाली एक दर्जन से अधिक छात्राएं अजीब बीमारी से ग्रस्त हैं. ये लड़कियां स्कूल में अचानक बैठे-बैठे कांपने लगती हैं और जोर-जोर से चीखने के बाद बेहोश हो जाती हैं. आपको बता दें कि ये सिलसिला 12 दिसंबर से शुरू हुआ है, लेकिन जिला प्रशासन ने अब तक इस मामले में कोई गंभीरता नहीं दिखाई है. जिससे गांव में दहशत का माहौल है. डर के कारण अधिकांश बच्चों ने स्कूल में आना ही बंद कर दिया है।

अनहरा गांव के लोगों का कहना है कि छात्राओं की इस हालत की जानकारी जिला प्रशासन को दी है लेकिन डेढ़ माह बाद भी किसी ने सुध नहीं ली है. अनहरा के माध्यमिक और प्राथमिक स्कूल में कक्षा से पहली से लेकर आठवीं तक 87 छात्र संख्या दर्ज है, लेकिन इस समय में सिर्फ 20 विद्यार्थी ही स्कूल आ रहे हैं. आपको बता दें कि 26 जनवरी को बेहोश हुई चार छात्राएं स्कूल में गणतंत्र दिवस के कार्यक्रम में चार छात्राएं बेहोश होकर गिर गई थी. फिर लगभग आधे घंटे बाद उनको होश आया. इस घटना के बाद से गांव में और ज्यादा दहशत है।

आपको बता दें कि चाइल्ड लाइन टीम 24 जनवरी को इस मामले में पड़ताल करने अनहरा स्कूल पहुंची. टीम के सदस्य प्रदीप शुक्ला ने बताया कि हमने अपनी गाड़ी को स्कूल से दूर खड़ा कर दिया. परिसर में पैदल पहुंचे वहां बच्चे धूप में पढ़ाई कर रहे थे. इनमें से एक बच्ची अचानक कांपने लगी और उसका शरीर अकड़ने लगा. कुछ समय बाद दूसरी बच्ची भी हरकत करने लगी. जिसके बाद धीरे-धीरे छह से सात लड़कियां कांपते-कांपते अपनी एड़ी जमीन में रगड़ने लगीं और उनकी एड़ी में खरोंच तक नहीं आई।