Categories
Other

शाशि थरूर ने मोदी की अपील पर कसा था तंज, अब जवाब देते हुए संबित पात्रा बोले- ‘पहले ट्यूबलाईट…’

2 अप्रैल को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के देश के नाम संदेश भेजा था जिसमें उन्होंने आने वाली 5 तारीख को देशवासियों से दिया जलाने का आह्रान किए जाने को लेकर सियासत गर्म हो गई है. जिसके बाद कांग्रेस नेता शशि थरूर ने पीएम मोदी के दीया जलाने वाले अपील पर तंज कसा. अब भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने थरूर के तंज पर पलटवार किया है. आइए आपको बताते है कि संबित पात्रा ने क्या जवाब दिया है.

संबित ने कहा है कि अगर कांग्रेस के किसी नेता को दीया नहीं जलाना तो आप अंधेरे में रहिए. उन्होंने शशि थरूर के ट्वीट पर को रिट्विट करते हुए लिखा,” अगर कांग्रेस के सभी लोग भारत की एकजुटता के लिए एक मोमबत्ती जलाना नहीं चाहते हैं, अगर आप लोगों को यह बहुत तकलीफ दे रहा है तो अंधेरे में रहें लेकिन कम से कम वह ट्यूब लाइट बंद करना न भूलें.”

आपको बता दें कि कांग्रेस नेता शशि थरूर ने कहा था, ”प्रधान शो मैन को सुना, कुछ नहीं बताया कि लोगों का दर्द कैसे कम हो, उनके बोझ, उनकी वित्तीय चिंताओं को कैसे कम करें. भविष्य को लेकर कोई दृष्टि पेश नहीं की. न ही यह बताया कि लॉकडाउन के बाद के हालात से निबटने के लिए क्या प्लान है. बस भारत के फोटो-ओप प्राइम मिनिस्टर द्वारा अच्छा महसूस करने का एक पल था.”

क्या कहा था पीएम मोदी ने
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देशवासियों से कहा,” हम पांच अप्रैल रविवार को रात 9 बजे अपने घरों की लाइट बंद कर के नौ मिनट तक घर के दरवाजे पर या बालकनी में खड़े रहकर मोमबत्ती या मोबाइल की लाइट जलाए. दुनिया को प्रकाश की ओर जाना है. ऐसा करने से एहसास होगा कि हम अकेले नहीं हैं.” पीएम मोदी ने कहा कि इस रविवार को हमें संदेश देना है कि हम सभी एक हैं. पीएम ने अपील करते हुए कहा कि इस दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का उल्लंघन ना करें. उन्होंने कहा,” सोशल डिस्टेंसिंग की लक्ष्मण रेखा को कभी भी लांघना नहीं है. कोरोना की चेन तोड़ने का यही रामबाण इलाज है. उस प्रकाश में, उस रोशनी में, उस उजाले में, हम अपने मन में ये संकल्प करें कि हम अकेले नहीं हैं, कोई भी अकेला नहीं है.”