Categories
Other

पाक राष्ट्रपति के साथ कश्मीर के जिक्र पर शत्रुघ्न सिन्हा ने दी सफाई, कही ये बात

भारत और पाकिस्तान में चल रहे तनाव के बीच आपको याद दिला दें कि बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता और कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने पाकिस्तान के राष्ट्रपति आरिफ अल्वी के दावे को रविवार को खारिज कर दिया कि उन्होंने जम्मू-कश्मीर का विशेष दर्जा समाप्त किए जाने के बाद वहां लगाए गए प्रतिबंधों पर अल्वी की चिंता का समर्थन किया था.

शत्रुघ्न बोले- ये निजी मुलाकात
आपको बता दें कि 74 साल के शत्रुघ्न सिन्हा पाकिस्तान में एक विवाह में शामिल होने के लिए निजी यात्रा के लिए वहां गए थे. इस सब में उन्होंने पाकिस्तान के राष्ट्रपति अल्वी से मिलने के बाद शनिवार को लाहौर के गर्वनर हाउस में मुलाकात की थी.

इस सब को लेकर कांग्रेस नेता सिन्हा ने कहा कि अल्वी के साथ मुलाकात के दौरान उन्होंने राजनीति पर नहीं, बल्कि सामाजिक एवं सांस्कृतिक मामलों पर बातचीत की. उन्होंने कहा, “हालांकि बैठक कुछ देर चली, लेकिन यह केवल सामाजिक एवं व्यक्तिगत और आभार व्यक्त करने के लिए शिष्टाचार मुलाकात थी. हमने सामाजिक एवं सांस्कृतिक मामलों से जुड़ी कई बातें कीं लेकिन राजनीति पर कोई चर्चा नहीं की गई.”

साथ ही उन्होंने आगे ये भी कहा कि, “यह बैठक राजनीतिक या आधिकारिक नहीं थी. मेरे मित्रों, शुभचिंतकों, समर्थकों और मीडिया को यह बात समझनी चाहिए कि अगर कोई व्यक्ति विदेशी जमीन पर देश की नीतियों एवं राजनीति पर चर्चा करने के योग्य नहीं है और सरकार ने उसे इसके लिए अधिकृत नहीं किया है, तो उसे ऐसा नहीं करना चाहिए.”

आपको बता दें कि एक्टर से नेता बने शत्रुघ्न सिन्हा का ये बयान ऐसे समय में आया है जब अल्वी के कार्यालय ने ट्वीट किया था कि सिन्हा ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 को हटाने और पूर्ववर्ती राज्य को दो केंद्रशासित प्रदेशों में विभाजित करने के भारत सरकार के 5 अगस्त के फैसले के बाद कश्मीर में लगाए गए प्रतिबंधों पर पाकिस्तान के राष्ट्रपति की चिंता का समर्थन किया. आपको बता दें कि सिन्हा पाकिस्तान के पूर्व राष्ट्रपति जिया उल हक से निकटता के कारण पहले भी कई बार वहां जा चुके हैं.