Categories
News

दरोगा के लिए सेलेक्ट हुई बिटिया, बीमारी ने ली जान :मुजफ्फरपुर की शिवानी के घर ख़ुशी का माहौल गम में बदला….😭

खबरें

 इस बार बिहार में दारोगा परीक्षा में लड़कियों ने अपना दमखम दिखाया है. युवतीयां से लेकर शादीशुदा महिलाओं ने भी बाजी मारी है. ऐसे ही जिले के मुरौल ब्लॉक के एक बेटी ने नाम रोशन किया था, लेकिन आज वैक्सीन लेने से उसकी मौत हो गई. घर में खुशियों का माहौल गम मे तब्दील हो गया.प्रमोटेड कंटेंट

मुजफ्फरपुर के मुरौल ब्लॉक का जिस बेटी ने नाम रोशन किया था, आज उसकी मौत हो गई। अभी तो घर में खुशियों का ही माहौल था कि ये अनहोनी हो गई। जहांगीरपुर की शिवानी इलाके की आन-बान-शान थी। कड़ी मेहनत और लगन से मुजफ्फरपुर की इस छोरी ने परिवार वालों का सिर ऊंचा किया था। पिछले ही दिनों वह बिहार पुलिस में दरोगा पद के लिए सेलेक्ट हुई थी।

परिजनों का कहना है कि उसने कल ही कोरोना वैक्सीन ली थी। इसके बाद तबियत बिगड़नी शुरु हुई और आज मौत हो गई। मौत के बाद इलाके के लोग भड़क गए और मुज़फ़्फ़रपुर-पूसा मार्ग को जाम कर दिया। इसके बाद जमकर बवाल काटा। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस को लोगों ने पोस्टमार्टम के लिए शव नहीं दिया। जाम के कारण यातायात पूरी तरह ठप हो गया। काफी समझाने-बुझाने के बाद जाम हटाया जा सका।

पिता उमेश शाह ने बताया कि फाइनल रिजल्ट आने के बाद घर में खुशी का माहौल था। लेकिन, यह किसी को नहीं मालूम था कि दारोगा की वर्दी पहनने से पहले ही शिवानी दुनिया छोड़ कर चली जाएगी।

एक दिन पहले ही ली थी वैक्सीन
उन्होंने कहा कि शिवानी ने शनिवार को कोरोना वैक्सीन ली थी। उसके बाद शिवानी को काफी तेज बुखार आया। उसने रात में बुखार उतारने के लिए दवा भी ली। लेकिन, बुखार कम नही हुआ। रविवार को अचानक से उसकी मौ’त हो गई।

मुज़फ़्फ़रपुर-पूसा मार्ग पर जमकर बवाल
घटना की सूचना के बाद स्थानीय ग्रामीण आक्रोशित हो गए। उन्होंने मुज़फ़्फ़रपुर-पूसा मार्ग को जाम कर दिया। इसके बाद वे जमकर बवाल करने लगे। उनका आरोप था कि वैक्सीन लेने की वजह से शिवानी की मौत हुई है। ऐसी वैक्सीन लेने से हमें क्या फायदा। सूचना के बाद पहुंची पुलिस को स्थानीय लोगों ने श’व कब्जे में नहीं लेने दिया। बवाल से यातायात पूरी तरह बाधित हो गया। किसी तरह समझा-बुझाकर जाम खत्म करवाया गया।