Categories
Other

‘संजना’ बन सिद्धार्थ ने युवक के साथ किया ऐसा काम…जो कोई सोच भी नहीं सकता

ये कोई कहानी नहीं, असलीयत है. मध्यप्रदेश हरदा जिले के रहने वाले सिद्धार्थ पटेल ने फेसबुक पर संजना बनकर शोभावतों की ढाणी निवासी रवि इनाणिया से तीन साल पहले दोस्ती की थी. जिसमें उसने खुद को दिल्ली की संजना बताया था. वे लड़की की आवाज में ही बात करता था.

आपको बता दें कि असल में वो संजना नहीं बल्कि सिद्धार्थ था, जिसने रवि को पहला मैसेज हाय का किया था.इस दो अक्षर के हाय से दोनों की दोस्ती प्यार और फिर शादी करने की बात तक पहुंच गई. जिसके बाद शादी में शनि व मंगल का दोष बताते हुए सिद्धार्थ ने रवि से चार बार में 10 हजार रुपए और 400 किमी नर्मदा नदी की यात्रा करवा ली थी. लड़की की आवाज में महारथी सिद्धार्थ तीन साल तक रवि के पैसों से ही जगह-जगह घूमा फिर लाखों रुपए खर्च करने के बाद भी जब रवि संजना से नहीं मिला तो उसे शक हुआ और उसने पुलिस में मुकदमा दर्ज कराया. जिसके बाद चौहाबो पुलिस ने सिद्धार्थ को गिरफ्तार कर लिया.

पुलिस की पूछताछ में सिद्धार्थ ने जो खुलासे किए हैं, वे किसी फिल्मी कहानी से कम नहीं हैं. उसने बताया कि रवि से बात करने के लिए उसने अपनी आईडी से 5 सिम और 4 सिम रिश्तेदारों के नाम से खरीदी थी. फोन पर रवि समझता था कि संजना से ही बात कर रहा है लेकिन कभी उसका भाई सिद्धार्थ संजना की तबीयत खराब बताता और खुद बात करता. रवि ने बताया कि सिद्धार्थ जाल में फंसाने के लिए साली, सास-ससुर सहित परिवार के 9 सदस्यों की आवाज निकालता था. उसकी महिला वाली आवाज से भी रवि को शक होने लगा था. साथ ही वो जहां भी जाता था उसके सभी सिम की लोकेशन भी एक जगह की आती थी. इन्हीं सब वजहों से रवि को संदेह हुआ जिसके बाद उसने पुलिस में शिकायत की.

पड़ोसियों का घर दिखा बोला-यहीं रहती है संजना: रवि तीन सालों में 15 से 16 महीने सिद्धार्थ के साथ रहा। सिद्धार्थ उसे भमोरी गांव ले जाकर संजना का घर बाहर से दिखाया। ओशोधारा आश्रम में एक महीना रहे। हिसार ले जाकर एक घर दिखा बोला, यह उसकी बुआ का मकान है। लेकिन एक बार भी उसने संजना से

Leave a Reply

Your email address will not be published.